पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

बाबा रामदेव ने अनशन तोड़ा

बाबा रामदेव ने अनशन तोड़ा

देहरादून. 12 जून 2011


भारत के भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ अनशनरत बाबा रामदेव ने नौ दिन बाद रविवार सुबह अपना अनशन तोड़ दिया. यह घोषणा आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने की.

ज्ञात रहे कि बाबा रामदेव ने चार जून को दिल्ली में अपना अनशन शुरु किया था. लेकिन बाद में दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई कर उन्हें वहाँ से हटा कर देहरादून भेज दिया था. इसके बाद उन्होंने हरिद्वार स्थित अपने आश्रम में अपना आमरण अनशन जारी रखा था. जहां उनकी हालत खराब होने पर शुक्रवार को उन्हें देहरादून लाया गया था और अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

अनशन के नौंवे दिन रविवार सुबह उन्होंने श्रीश्री रविशंकर, मोरारी बापू और हरिद्वार के क़रीब 50 संतों की उपस्थिति में दि आर्ट ऑफ लीविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर के हाथों जूस पीकर अपना अनशन समाप्त किया.

श्री श्री रविशंकर ने अस्पताल में बाबा रामदेव से मुलाकात के बाद संवाददाताओं को बताया, 'उन्होंने अपना अनशन तोड़ दिया है. उन्होंने फलों का रस पिया है.' वह बाबा रामदेव से भूख हड़ताल समाप्त करने के लिए अनुरोध कर रहे थे और उन्होंने इस क्रम में योगगुरु से कई बार भेंट भी की थी.

बाबा रामदेव की ओर से अखिल भारतीय संत समाज, मोरारी बापू और बालकृष्ण ने कहा है कि उनका आमरण अनशन ख़त्म हो गया है लेकिन काले धन को लेकर चल रहा आंदोलन जारी रहेगा.