पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

साईं बाबा के कमरे में मिला कुबेर का खजाना

साईं बाबा के कमरे में मिला कुबेर का खजाना

 

पुट्टापर्थी. 18 जून 2011

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले के पुट्टापर्थी स्थित प्रशांति निलयम आश्रम में आध्यात्मिक गुरु सत्य साईं बाबा के निजी कक्ष से बड़ा खजाना मिला है. आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के मुताबिक कमरे से 11.56 करोड़ रुपये नकद, 98 किलो सोना और 307 किलो चांदी के साथ भारी मात्रा में हीरे जवाहरात भी मिले हैं. इनकी कीमत 38 करोड़ रुपये बताई गई है.

सत्य साईं सेंट्रल ट्रस्ट द्वारा सत्य साईं बाबा के निजी कक्ष यजुर मंदिर के द्वार खोले जाने के अगले दिन शुक्रवार शाम ट्रस्ट के सदस्य एवं बाबा के भतीजे आर.जे. रत्नाकर ने पाई गई नकदी तथा अन्य बहुमूल्य वस्तुओं की घोषणा की. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि पुट्टापर्थी में 11.56 करोड़ रुपये, 98 किलोग्राम सोना तथा 307 किलोग्राम चांदी पाई गई. रत्नाकर ने कहा कि नकदी भारतीय स्टेट बैंक में जमा की जाएगी.

नकदी की गिनती एवं सोने के आभूषणों के मूल्य का आकलन करने में कुछ बैंक अधिकारी तथा बाबा के लगभग 15 शिष्य गुरुवार से ही जुटे हुए थे.

28 मार्च को जब सत्य साईं बाबा को अस्पताल में दाखिल किया गया था तो येजुर मंदिर के इस कमरे का दरवाजा भी बंद कर दिया गया था. गुरुवार सुबह 10 बजे के करीब सत्य साईं ट्रस्ट के सदस्यों ने इसका दरवाजा खुलवाया. पूर्व मुख्य न्यायाधीश भगवती, एमजे रत्नाकर, एसवी गिरी, वी श्रीनिवासन और बाबा के सबसे करीबी माने जाने वाले सत्यजीत दरवाजा खोलने के समय वहां पर मौजूद थे. येजुर मंदिर में इतनी नकदी मिली कि उसे गिनने के लिए तीन मशीनें लगाई गईं. सत्य साईं बाबा एजुकेशनल ट्रस्ट के 15 छात्रों को कमरे में जमा सोने और हीरों को अलग करने में लगाया गया.

आर.जे. रत्नाकर ने हालांकि बाबा का कोई वसीयतनामा मिलने से इंकार किया.