पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

संसद में खर्राटा भरते रहे लालू

संसद में खर्राटा भरते रहे लालू

 

नई दिल्ली. 2 सितंबर 2011
लोकसभा में शुकवार को राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव को नींद से जगाया गया. सदन में प्रश्नकाल के दौरान लालू यादव को झपकी लेते हुए देखकर अध्यक्ष मीरा कुमार ने यादव की सीट के पीछे की पंक्ति वाली सीट पर बैठे राजग सदस्य उमाशंकर सिंह से कहा- उमाशंकर जी उनको उठा दीजिए.

उमाशंकर सिंह को अचानक कुछ समझ नहीं आया तब अध्यक्ष ने कहा कि लालू जी को उठा दीजिए. तब उमाशंकर सिंह ने यादव को हल्के से झकझोर कर जगाया.

समाजवादी पार्टी के शैलेन्द्र कुमार ने चुटकी लेते हुए कहा कि उनको सवाल ही पूछने नहीं देते. बाद में लालू प्रसाद यादव ने कहा कि हम संसद में सो ही रहे थे कोई अपराध नहीं किया है. स्पीकर का तो काम ही है उठाना.

लालू की नींद की झपकी पर टिप्पणी करते हुए भाजपा के प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार की जनता तो लालू प्रसाद को पहले ही सोने की इजाजत दे चुकी है. अब वे सो रहे हैं इसका कोई फर्क नहीं पड़ता है.

संसद में सोने वाले लालू प्रसाद यादव पर चुटकी लेते हुए शरद यादव ने कहा कि पिछले 15 सालों से वे बिहार में सो रहे थे. अब वे संसद में सो रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि सोने के लिए उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्डे रिकॉर्ड में लिखा जाना चाहिए.

वैसे संसद में सोने वाले लोगों की कमी नहीं है. दूसरे दिनों के अलावा बजट सत्र में सोने वालों की तो एक लंबी लिस्ट है. देश के पीएम रहे एच डी देवगौड़ा तो अपनी नींद के लिये चर्चित रहे हैं.