पहला पन्ना >राजनीति >बात Print | Share This  

पहले से ज्यादा मजबूत हुआ अमरीका-ओबामा

पहले से ज्यादा मजबूत हुआ अमरीका-ओबामा

न्यूयार्क. 11 सितंबर 2011


9/11 हमलों की दसवीं बरसी की पूर्वसंध्या पर अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राष्ट्र के नाम अपने साप्ताहिक रेडियो संबोधन में कहा कि भयावह हमलों के बाद के 'मुश्किल' दशक में ख़तरे के बीच अमरीका मज़बूती से डटा रहा.

ओबामा ने कहा कि ये समय राष्ट्र निर्माण का है और अमरीकी जनता की रक्षा के लिए हरसंभव प्रयास किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि सैन्यकर्मियों, खु़फिया एजेंसियों, क़ानून लागू करने वालों और देश की सुरक्षा में तैनात पेशेवरों के अथक प्रयासों का धन्यवाद. इसमें कोई शक नही कि आज अमरीका दस साल पहले से ज़्यादा मज़बूत है और अल क़ायदा हारने की कगार पर.

बराक ओबामा ने कहा कि अमरीका ने ढीठ दुश्मन का सामना किया और कोई ग़लती नहीं- वह हम पर फिर से हमला करना जारी रखेंगे. लेकिन हम चौकस हैं.

अमरीका में कई स्थानों पर 11 सितंबर की बरसी पर मृतकों की याद में समारोह आयोजित किए गये. सबसे बड़ा समारोह न्यूयॉर्क में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की जगह पर हुआ, जहां विमानों के ज़रिए हुए हमले में कई लोग मारे गए थे. न्यूयॉर्क में ग्राउंड ज़ीरो पर राष्ट्रपति बराक ओबामा, उनकी पत्नी मिशेल के अलावा पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश भी मौजूद थे.

ज़बर्दस्त सुरक्षा इंतज़ामों के बीच राष्ट्रपति ओबामा ने समारोह में हिस्सा लिया और संक्षिप्त रुप से लोगों को संबोधित भी किया. अपने भाषण में ओबामा ने बाइबिल से एक पैराग्राफ पढ़ा जिसमें भगवान की मजबूती और उनमें शरण लेने का ज़िक्र है.