पहला पन्ना > बहस > पश्चिम बंगाल Print | Send to Friend 

तसलीमा नसरीन भारत लौटीं

तसलीमा नसरीन भारत लौटीं
नई दिल्ली. 9 अगस्त 2008


पिछले कई सालों से बांग्लादेश से निर्वासन झेल रही लेखिका तसलीमा नसरीन चार माह स्वीडन में बिताने के बाद शुक्रवार को भारत लौट आईं.


इस साल 19 मार्च को वे भारत से बाहर चली गई थीं. माना जा रहा है कि वे अपनी वीसा की अवधि बढ़ाने के मुद्दे को लेकर भारत लौटी हैं, जो इस महीने की 12 तारीख को खत्म हो रही है.   तसलीमा से बातचीत पढ़ें

सूत्रों ने बताया कि तसलीमा शुक्रवार को सुबह इंदिरा गाँधी हवाई अड्डे पर उतरीं, जहां से उन्हें अज्ञात स्थान पर ले जाया गया.


पिछले साल अगस्त के महीने में हैदराबाद में उन पर हमला हुआ था और उसके बाद जब वे कोलकाता लौटीं तो उनके खिलाफ कट्टरपंथियों ने जोरदार प्रदर्शन कर उन्हें जान से मारने की धमकी दी.

 

बंगाल की वामपंथी सरकार ने भी उनसे पल्ला झाड़ लिया और तसलीमा को लंबे समय तक दिल्ली में लगभग नजरबंद हालत में रहना पड़ा.इसके बाद में 19 मार्च को लंदन होते हुए अज्ञात स्थान पर चली गई थीं.

बांग्लादेश से निर्वासन के बाद से तस्लीमा नसरीन स्वीडन और भारत में रही हैं. तसलीमा के पास स्वीडन की नागरिकता भी है. हालांकि उन्होंने भारत सरकार से भी नागरिकता की मांग की है लेकिन कट्टरपंथियों के डर से उन्हें नागरिकता देने का मामला लगातार टलता रहा है. उनकी वीसा अवधि भी इस महीने की 12 तारीख को समाप्त हो रही है.