पहला पन्ना > राज्य > आंध्र-प्रदेश Print | Send to Friend 

आंध्र में बाढ़, 74 की मौत

आंध्र में बाढ़, 74 की मौत
नई दिल्ली. 11 अगस्त 2008


आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में आई बाढ़ की चपेट में मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. अब तक बाढ़ में डूबने से कम से कम 74 लोगों की मौत हो गई है. मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद राज्य में राहत कार्य और तेज कर दिए गए हैं.

 

राज्य भर में 75 राहत शिविर लगाए गए हैं. इसके अलावा बाढ़ प्रभावितों को पीने का पानी मुहैय्या कराने के लिए आठ सौ से अधिक पानी की टंकियां उपलब्ध कराई गई हैं.

रविवार तक प्राप्त जानकारी के अनुसार कृष्णा जिले में 13, गुंटूर में 9, पश्चिमी गोदावरी में 7, नलगोंडा में 4, मेडक में 3, विशाखापट्टनम, वारंगल व करीमनगर और खम्माम में 2-2 लोगों बाढ़ में डूब कर मारे जाने की खबर है. हैदराबाद में भी 14 लोग बाढ़ की चपेट में आ कर
अपनी जान गवां चुके है.

रविवार को गुंटूर जिले में एक ट्रक के बाढ़ में बह जाने से उस पर सवार कम से कम 40 लोगों के मारे जाने की खबर है.

इधर राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी की अध्यक्षता में रविवार को हुई एक बैठक में बाढ़ से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा की गई. इस बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने प्रत्येक बाढ़ प्रभावित परिवार को 20 किलो चावल और 5 लीटर केरोसिन तेल उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए हैं.