पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राष्ट्र >बात Print | Share This  

कांग्रेस बनायेगी किसी दलित को प्रधानमंत्री

कांग्रेस बनायेगी किसी दलित को प्रधानमंत्री

नई दिल्ली. 17 अक्टूबर 2011

उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती के बयान को पुष्ट करने वाले अंदाज में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अनिल शास्त्री ने कहा है कि वह दिन दूर नहीं जब कांग्रेस किसी दलित को प्रधानमंत्री बनायेगी. अनिल शास्त्री ने यह बयान सोशल नेटवर्किंग साईट ट्विटर पर दिया है. इससे पहले कांग्रेस ने इस तरह की किसी संभावना से इंकार किया था.

अनिल शास्त्री


गौरतलब है कि शुक्रवार को नोएडा में लगभग पौने सात सौ करोड़ रुपयों की लागत से बने राष्ट्रीय दलित प्रेरणा स्थल का उदघाटन करते हुए मायावती ने कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाते हुये कहा कि वह बसपा की ताकत से कांग्रेस घबरा गई है. इसलिये कांग्रेस कुछ समय के लिये मीरा कुमार या सुशील कुमार शिंदे को प्रधानमंत्री बना सकती है. मायावती के इस बयान पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने मुद्दे को लगभग टालने वाले अंदाज में कहा था कि डाक्टर मनमोहन सिंह देश के बेहद ईमानदार प्रधानमंत्री हैं और अभी तो कोई पद खाली ही नहीं है.

अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अनिल शास्त्री ने भी राय व्यक्त की है कि कांग्रेस किसी दलित को प्रधानमंत्री बना सकती है. अनिल शास्त्री ने ट्विटर पर कहा, ‘‘कांग्रेस ने अतीत में विभिन्न राज्यों में चार मुख्यमंत्री बनाए हैं. अब वह दिन दूर नहीं, जब वह देश को एक दलित प्रधानमंत्री देगी और पार्टी यह वोटों के लिए नहीं बल्कि दलित उत्थान के लिए करेगी.”

इधर रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के नेता और बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के पोते प्रकाश अंबेडकर ने मायावती पर निशाना साधते हुये कहा है कि अगर उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के पहले कांग्रेस किसी दलित को प्रधानमंत्री के रूप में तरजीह देती है तो मायावती डर क्यों रही हैं. प्रकाश अंबेडकर ने मीरा कुमार और सुशील कुमार शिंदे के साथ-साथ बूटा सिंह और कुमारी सेलजा को भी प्रधानमंत्री पद के लिये योग्य उम्मीदवार बताया.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in