पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

अग्निवेश और दिग्गी ने बोला किरण बेदी पर हमला

अग्निवेश और दिग्गी ने बोला किरण बेदी पर हमला

नई दिल्ली. 20 अक्टूबर 2011

किरण बेदी द्वारा एयर टिकट में कथित हेरा-फेरा के मामले पर टीम अन्ना से निकाले गये स्वामी अग्निवेश और कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने हमला बोल दिया है. स्वामी अग्निवेश ने किरण बेदी के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग की. उन्होंने कहा कि किरण बेदी पर जो आरोप लग रहे हैं, वह गंभीर हैं. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा वाकई में है तो इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए. दूसरी ओर कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने भी कहा है कि टीम अन्ना में शामिल लोगों का चरित्र अब सामने आ गया है.

दिग्विजय सिंह


गौरतलब है कि एक अंग्रेजी अखबार ने किरण बेदी पर आरोप लगाया था कि वह उन एनजीओ और संस्थाओं से ज्यादा बिल वसूल रही हैं, जो उन्हें सेमिनार या बैठकों में बुलाते रहे हैं. अख़बार का कहना है कि 2001 के सरकारी दिशानिर्देशों के मुताबिक सभी वीरता पुरस्काकर से सम्मानित लोग एयर इंडिया के इकॉनॉमी क्लास के किराए में 75 फ़ीसदी की छूट के हक़दार हैं. बेदी को 1979 में राष्ट्रपति का वीरता पुरस्कार मिला था. आरोप है कि बेदी ने इन सरकारी दिशानिर्देशों का फ़ायदा उठा कर सस्ते टिकट खरीदे, लेकिन आयोजकों से पूरा किराया वसूल किया.

अखबार के आरोप पर सफाई देते हुये किरण बेदी ने कहा कि यह बेहद दिलचस्प है कि इकॉनॉमी क्लास में यात्रा कर एक मक़सद के लिए पैसा बचाना अख़बार की सुर्खी बना है! उन्होंने कहा कि उनके आयोजकों ने कई बार सार्वजनिक तौर पर घोषणा भी की है कि हमने किरण बेदी को बिजनेस क्लास का किराया दिया था लेकिन इन्होंने पैसे की बचत करते हुये इकॉनामी क्लास में यात्रा की है. इस बात के लिये समय-समय पर उनकी प्रशंसा भी की गई है.

लेकिन किरण बेदी की सफाई से अलग स्वामी अग्निवेश ने कहा कि यह देश के गरिमामयी गैलेंटरी अवार्ड की गरिमा से खिलवाड़ है. उन्होंने कहा कि यदि यह आरोप सही हैं तो इसकी स्पष्ट रूप से जांच होनी चाहिए और यदि किरण को ऐसा लगता है कि यह आरोप गलत हैं तो उन्हें समाचार टीवी चैनलों और अखबारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराना चाहिए.

स्वामी अग्निवेश ने कहा कि बेदी की बात भरोसे लायक नहीं है. यदि वह अपने एनजीओ में पैसे डाल रही हैं तो इसकी भी जांच होनी चाहिए कि वो पैसे कहां खर्च हो रहे हैं.

कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि अब समय आ गया है कि टीम अन्ना अपनी गड़बड़ियों को देखे और उन्हें दुरुस्त करे. उन्होंने कहा कि किरण बेदी पर जो आरोप लगे हैं, इसका जवाब उन्हें ईमानदारी से देना चाहिये.