पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >अर्थ-बेअर्थ Print | Share This  

आस्ट्रेलिया में 6536 भारतीय छात्रों का वीजा रद्द

आस्ट्रेलिया में 6536 भारतीय छात्रों का वीजा रद्द

मेलबर्न. 25 अक्टूबर 2011


ऑस्ट्रेलियाई प्रशासन ने वीजा नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुये 15,066 विदेशी छात्रों का वीजा रद्द कर दिया है. जिन छात्रों का वीजा रद्द किया गया है, उनमें भारतीय छात्रों की संख्या 6536 हैं. वीजा रद्द करने की यह घटना ऐसे समय में हुई है, जब पहले से ही भारतीयों पर हमलों के कारण छात्रों के वीजा आवेदन में भारी कमी आई है. गौरतलब है कि पिछले दो वर्षों में भारतीय छात्रों पर हमले की 100 से अधिक घटनाए हुई हैं.

वीजा आस्ट्रेलिया


यह पिछली बार रद्द किये गये विजा की तुलना में 37 प्रतिशत अधिक है. हालांकि पिछले कुछ सालों की तुलना में आस्ट्रेलिया जाने वाले छात्रों की संख्या में भारी कमी आई है. ताजा घटनाओं के बाद यह संख्या और कम हो सकती है.

अधिकारियों के अनुसार 3,624 छात्रों को अपनी पढ़ाई में में अनुत्तीर्ण हो जाने के कारण या कक्षा में उपस्थित नहीं रहने के कारण वीजा से हाथ धोना पड़ा है. वहीं 2,235 छात्रों का वीजा मूल पाठ्यक्रमों में भाग नहीं लेने और अवैध तरीके से काम करने के कारण रद्द कर दिया गया है. इस पूरी कार्रवाई में भारतीय छात्र सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं.

ऑस्ट्रेलिया में जून के महीने में 332,709 अंतरराष्ट्रीय छात्रों में से आधे से अधिक छात्र यहां विश्वविद्यालयों में शिक्षा ग्रहण कर रहे थे. जबकि एक तिहाई छात्र यहां पर डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में शिक्षा ग्रहण करने के लिए व्यावसायिक प्रशिक्षण वीजा पर आये हुए थे.

यह सब ऐसे समय में हुआ है, जब पिछले वित्त वर्ष की तुलना में भारतीय छात्रों के वीजा आवेदन में करीब 63 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है. इस साल जून महीने की तिमाही रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2010-11 में भारतीय छात्रों के 6,875 वीजा अवेदन प्राप्त हुए, जबकि वित्त वर्ष 2009-10 में भारतीय छात्रों के 18,514 वीजा आवेदन मिले थे.

इसके पीछे एक बड़ा कारण तो भारतीय छात्रों को दिये जाने वाले वीजा के नियमों को सख्त किया जाना था, दूसरा कारण वहां हो रहे हमले थे. आस्ट्रेलिया में भारतीय छात्रों पर हमले की पिछले दो वर्षों में १०० से अधिक घटनाएं हुई हैं.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in