पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

श्री श्री रविशंकर होंगे कांग्रेस के निशाने पर

श्री श्री रविशंकर होंगे कांग्रेस के निशाने पर

नई दिल्ली. 27 अक्टूबर 2011


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है कि अब उनके निशाने पर आर्ट ऑफ लिविंग के प्रणेता श्री श्री रविशंकर होंगे. ट्विटर पर दिग्विजय सिंह ने कहा है कि श्री श्री रविशंकर के खिलाफ जल्दी ही अभियान चलाया जायेगा.

श्री श्री रविशंकर


गौरतलब है कि एक दिन पहले ही श्री श्री रविशंकर ने कांग्रेस के ही अंदाज में कहा था कि लोकपाल सभी मर्ज की दवा नहीं है. जनलोकपाल बिल को लेकर समाजसेवी अन्ना हजारे का साथ देने वाले ऑर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने कहा था जनलोकपाल बिल जरूरी है लेकिन इससे भ्रष्टाचार खत्म नहीं हो जाएगा. जब अन्ना दिल्ली के रामलीला मैदान में अनशन पर बैठे थे तब श्री श्री भी उनके साथ दिखाई दिए थे. कहा गया था कि श्री श्री मध्यस्थ की भूमिका निभा रहे हैं. इससे पहले रविशंकर ने किरण बेदी के मामले की जांच भी कराये जाने की मांग की थी.

लेकिन लगता है श्री श्री रविशंकर का कांग्रेस के सुर में सुर मिलाने का दिग्विजय सिंह पर कोई असर नहीं पड़ा है. उन्होंने कहा है कि अब श्री श्री रविशंकर के खिलाफ अभियान चलाया जायेगा.

ट्विटर पर लिखे अपने संदेश में कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है कि योजना 1 के तहत रामदेव बाबा का सफाया किया, योजना 2 के तहत अन्ना हजारे के खिलाफ मुहिम जारी है. अब योजना 3 के तहत श्री श्री रविशंकर के खिलाफ अभियान चलाया जायेगा.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in