पहला पन्ना >राजनीति >बात Print | Share This  

नहीं भंग होगी कोर टीम, संविधान बनेगा- अन्ना

नहीं भंग होगी कोर टीम, संविधान बनेगा- अन्ना

रालेगन सिद्धि. 30 अक्टूबर 2011

वरिष्ठ समाजसेवी अन्ना हजारे ने साफ कहा है कि उनकी कोर कमेटी को भंग नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि टीम अन्ना को बदनाम करने की साजिश हो रही है. लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि टीम अन्ना जल्दी ही एक संविधान बनाएगी, जिससे आगे के आंदोलन को चलाए जाने में सुविधा हो.

अन्ना हजारे


रविवार को अन्ना हजारे से मुलाकात के बाद अन्ना हजारे की उपस्थिति में अरविंद केजरीवाल ने उनका लिखित बयान पढ़ा. उनके साथ प्रसिद्ध अधिवक्ता प्रशांत भूषण और पूर्व आईपीएस किरण बेदी भी उपस्थित थीं. बयान में अन्ना ने कहा कि अरविंद केजरीवाल, प्रशांत भूषण, किरण बेदी, जस्टिस संतोष हेगड़े आदि तमाम सदस्यों वाली टीम अन्ना एकजुट है.

अन्ना हजारे के बयान में कहा गया कि जल्द ही टीम अन्ना की तरफ से एक संविधान बनाया जाएगा. इसकी कोर टीम में कैसे लोग होने चाहिए, उनकी पात्रता क्या होनी चाहिए और कैसे लोगों को कोर टीम में होना चाहिए, इसके बारे में संविधान में स्पष्ट किया जाएगा. संविधान बनने के बाद कोर टीम का पुनर्गठन किया जाएगा. लेकिन तब तक यह कोर टीम बनी रहेगी.

अन्ना ने कहा कि पैसों की गड़बड़ी का आरोप जानबूझकर लगाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि रामलीला मैदान में भी कुछ बाद पैसे लेना बंद कर दिया गया था. बैंकों में कुछ समय के अंदर कई अनजान लोगों ने पैसे जमा कराए थे. टीम ने उन पैसों का इस्तेमाल करने के बजाय बैंक के जरिए ही यह पैसा वापस लौटाने का फैसला किया. हम पिछले छह महीने की अवधि का ऑडिट करवा चुके हैं. यह जल्द ही पब्लिक किया जाएगा.

अन्ना हजारे ने आरोप लगाया कि इन सबसे साफ है कि भष्टाचार विरोधी आंदोलन पैसे जमा करने का मकसद लेकर नहीं चल रहा है. इसे बदनाम करने की कोशिश करने वालों का अपना खास मकसद है जिसे समझने की जरूरत है.

एक सवाल के जवाब में केजरीवाल ने बताया कि स्वामी अग्निवेश को टीम में वापस लेने का फैसला अभी नहीं हुआ है. इस बारे में बाद में सोचा जाएगा.