पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

अन्ना हजारे बंद करेंगे अपना ब्लाग

अन्ना हजारे बंद करेंगे अपना ब्लाग

नई दिल्ली. 5 नवंबर 2011

समाजसेवी अन्ना हजारे ने कहा कि उन्होंने टीम को भंग करने वाली चिट्ठी नहीं लिखी. अन्ना ने अपना ब्लॉग बंद करने का भी ऐलान किया है.

अन्ना हजार


गौरतलब है कि अन्ना हजारे के ब्लॉगर राजू परुलेकर ने दावा किया है कि 23 अक्टूबर को अन्ना ने उन्हें ब्लॉग लिखकर दिया था, जिसमें टीम अन्ना के पुनर्गठन की बात थी. राजू के दावे के जवाब में अन्ना ने कहा कि उन्होंने टीम को भंग करने वाली चिट्ठी नहीं लिखी. अन्ना ने कहा कि उनकी वही चिट्ठी सही है जिस पर उनके दस्तखत होते हैं. ब्लॉग पर उपजे विवादों के बारे में अन्ना ने कहा कि अब वो ब्लॉग नहीं लिखेंगे.

अन्ना ने कहा कि उनके मन में तमाम विचार आते हैं, जिन्हें वे कागज पर लिखते जाते हैं लेकिन उनका ब्लॉग वही माना जाएगा जिस पर उनके हस्ताक्षर हों.

अन्ना ने ये भी कहा कि मुझे ऐसा लग रहा था कि किरण, प्रशांत भूषण पर आरोप लग रहे हैं तो क्या कोर कमेटी में बदलाव लाना चाहिए लेकिन अब मुझे पूरा यकीन हो गया है कि ये सब हम लोगों को बदनाम करने की साजिश है. मैं जाकर सबसे पहले ब्लॉग को बंद करूंगा.

अन्ना के ब्लॉग अन्ना हजारे सेस पर राजू ने लिखा है कि शुक्रवार को अन्ना ने दिल्ली में हुई प्रेस वार्ता में कहा कि कोर कमेटी के गठन के मुद्दे पर उन्होंने मुझसे कभी बात नहीं की और ना ही कभी मिले हैं लेकिन मैं ये साफ कर दूं कि अन्ना जी ने मुझसे एक नहीं, कई बार कहा कि वो अपनी टीम से परेशान हैं. अन्ना ने इस बारे में एक चिट्ठी 23 अक्टूबर को लिखी थी और उस पर अपने दस्तखत भी किए थे. उन्होंने कोर कमेटी के सदस्यों अरविंद केजरीवाल, किरण बेदी और प्रशांत भूषण से छुटकारा पाने का मन बना लिया था, जब अन्ना ने ये बात लिखी तो सुरेश पठारे भी वहीं मौजूद थे. उन्होंने अन्ना को रोकने की कोशिश की लेकिन अन्ना नहीं माने. इसके बाद सुरेश पठारे ने मुझसे ये ब्लॉग अपलोड नहीं करने को कहा.

राजू पारुलेकर का ये भी दावा है कि केजरीवाल, बेदी और प्रशांत भूषण ने कुमार विश्वास की चिट्ठी को लेकर साजिश रची.