पहला पन्ना >मुद्दा >दिल्ली Print | Share This  

अग्निवेश को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

अग्निवेश को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

नई दिल्ली. 8 नवंबर 2011

स्वामी अग्निवेश को सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी फटकार लगाते हुये कहा है कि वे ऐसे शब्दों का इस्तेमाल न करें, जिससे लोगों की भावनाएं आहत होती हों. अमरनाथ यात्रा को "पाखंड" करार देने के मुद्दे पर कोर्ट ने कहा कि अग्निवेश को अपने शब्दों पर दोबारा गौर करना चाहिए, क्योंकि इससे लाखों लोगों की भावनाएं आहत हुई है.

स्वामी अग्निवेश


गौरतलब है कि जम्मू एवं कश्मीर में अमरनाथ की पवित्र गुफा में हर साल बर्फ से शिवलिंग की आकृति बनती है, जिसे लोग भगवान शिव के प्रतीक के रूप में देखते हैं. इसको लेकर स्वामी अग्निवेश ने टिप्पणी की थी कि यह पाखंड है. उन्होंने यात्रा को धार्मिक पाखंड और पवित्र गुफा में हिमलिंग निर्माण को प्राकृतिक सिस्टम करार देते हुये कहा था कि वह ऐसे धर्म पर विश्वास नहीं रखते.

न्यायाधीश एच. एल. दत्तू और न्यायाधीश सी. के. प्रसाद की खंडपीठ ने मंगलवार को कहा कि उन्हें कोई भी बात कहने से पहले उस पर विचार कर लेना चाहिए कि इससे लोगों की भावनाएं न आहत हों.

कोर्ट ने कहा कि सार्वजनिक जीवन के लोगों को कोई भी बयान देने से पहले सावधानी बरतनी चाहिए. कोर्ट का यह निर्देश अग्निवेश की उस याचिका पर सुनवाई के बाद आया है, जिसमें उन्होंने साल की शुरूआत में उक्त बयान पर हरियाणा के हांसी जिले में दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने का अनुरोध किया था.