पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राज्य >समाज Print | Share This  

सौम्या मर्डर केस में हत्यारे को फांसी

सौम्या मर्डर केस में हत्यारे को फांसी

त्रिशूर. 11 नवंबर 2011

त्रिशूर के सौम्या मर्डर केस में स्थानीय फास्ट ट्रैक कोर्ट ने बलात्कार और हत्या के आरोपी गोविंदचामी को फांसी की सजा सुनाई है. अदालत ने कहा कि यह अत्यंत संगीन मामला है और ऐसे अपराधियों को अगर कड़ी सजा नहीं दी जायेगी तो समाज में ऐसे लोगों के हौसले बढ़ेंगे.

सौम्या


गौरतलब है कि एक फरवरी 2011 को ट्रेन के लेडिज कंपार्टमेंट में सफर कर रही सौम्या को तमिलनाडु के विरुदाचलम में रहने वाले आरोप गोविंदचामी ने उस समय चलती हुई ट्रेन से बाहर फेंक दिया था, जब ट्रेन वल्लाथोल स्टेशन से छूटी थी. इसके बाद आरोपी रेल्वे ट्रेक के सहारे घटनास्थल पर पहुंचा और फिर वहां घालय पड़ी सौम्या के साथ बलात्कार किया. बाद में 5 दिनों तक अस्पताल में भर्ती रही सौम्या ने 6 जनवरी को दम तोड़ दिया था.

केरल के इस बहुचर्चित मामले की सुनवाई त्रिशूर की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने किया और कुल 154 लोगों की गवाही के आधार पर बलात्कार और हत्या के आरोपी गोविंदचामी को फांसी की सजा सुनाई. फास्ट ट्रैक कोर्ट के जज रवींद्र बाबू ने माना कि 30 साल के आरोपी गोविंदचामी का अपराध इतना गंभीर है कि इसे कड़ी सजा सुनाया जाना जरुरी है. आरोपी के खिलाफ 2004 से 2008 के दौरान तमिलनाडु में आठ मामले दर्ज किये गये थे. अदालत ने माना कि अपराध गोविंदचामी के स्वभाव का हिस्सा बन गया है.

हाल ही में राज्य के समाज कल्याण मंत्री एम के मुनीर ने माना था कि महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार के मामले में भी केरल आगे हो गया है. राज्य सरकार ने महिलाओं के लिये खास तौर पर शिकायत सेल बनाया है.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

RANJEET SINGH [cranjeetsingh@gmail.com] AGRA - 2011-11-11 13:46:14

 
  ये खबर बहुत अच्छी है. काश कि पूरे देश की अदालतें इसी तरह से फैसले लेने लग जाएं तो देश सुधर जाएगा. 
   
 

Poonam [] Singrauli M.P. - 2011-11-11 12:56:47

 
  सरकार ने ये पहला अच्छा काम किया है. इसी तरह देश के नेताओं पर भी रेप की सजा सुनाई जाए. रेप करने वाले को सार्वजनिक तौर पर गोली मारनी चाहिये, यही सजा है. 
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in