पहला पन्ना >मुद्दा >झारखंड Print | Share This  

नक्सली हमले में पुलिस के नौ जवान मारे गये

नक्सली हमले में पुलिस के नौ जवान मारे गये

रांची. 4 दिसंबर 2011, प्रभात खबर

लातेहार में नक्सली हमला


झारखंड में चतरा के सांसद इंदर सिंह नामधारी शनिवार शाम साढे पांच बजे लातेहार में नक्सलियों द्वारा घात लगाकर किये गये हमले में बाल-बाल बच गये लेकिन उनके पीछे चल रहा पुलिस का सुरक्षा वाहन हमले की चपेट में आ गया जिससे उसमें सवार एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक समेत कम से कम 9 जवानों और एक नागरिक की मौके पर मौत हो गयी, जबकि आधा दर्जन अन्य सुरक्षाकर्मी हताहत हैं.

झारखंड के पुलिस महानिदेशक गौरी शंकर रथ ने बताया कि लातेहार में गारू थानांतर्गत लाडू मोड के पास शनिवार की शाम लगभग साढे पांच बजे नक्सलियों ने चतरा के निर्दलीय सांसद इंदर सिंह नामधारी के काफ़िले पर घात लगाकर हमला किया, जिसमें सांसद तो बाल-बाल बच गये लेकिन उनकी सुरक्षा में चल रहा सुरक्षाकर्मियों का वाहन इसकी चपेट में आ गया, जिससे दो नागरिकों और एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक समेत छह पुलिसकर्मियों की मौके पर ही मौत हो गयी.

उन्होंने बताया कि इस हमले में आधा दर्जन अन्य सुरक्षाकर्मी हताहत हुए हैं लेकिन अभी मृतकों की संख्या की पूरी तरह पुष्टि नहीं की जा सकी है. सांसद की सुरक्षा टीम का नेतृत्व लातेहार में गारू थाने के सहायक पुलिस उपनिरीक्षक भीम टुडू कर रहे थे और वह इस हमले में शहीद हो गये. उनके अलावा शहीद होने वाले पुलिसकर्मियों में एक हवलदार और 7 जवान शामिल थे.

इस बीच लातेहार के पुलिस अधीक्षक बी डी शर्मा ने बताया कि नक्सली हमले में ध्वस्त हुए पुलिस वाहन में एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक समेत कम से कम बारह जवान सवार थे घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया है जहां उनमें से अधिकतर की हालत गम्भीर बनी हुई है. रथ ने बताया कि सुरक्षा वाहन के वहां से गुजरते समय ही नक्सलियों ने वहां आईईडी विस्फ़ोट कर दिया जिससे वाहन पूरी तरह छिन्न-भिन्न हो गया. बाद में आसपास छिपे नक्सलियों ने काफ़िले पर गोलीबारी भी की.

उन्होंने बताया कि राजधानी रांची से लगभग 160 किलोमीटर दूर स्थित घटनास्थल पर बडी संख्या में और अर्धसैनिक बलों और सुरक्षा कर्मियों को भेजा गया है. इससे पूर्व झारखंड पुलिस के प्रवक्ता पुलिस महानिरीक्षक आर के मलिक ने बताया कि लातेहार के महुआटांड इलाके में एक कार्यक्रम में भाग लेकर मेदिनीनगर वापस लौट रहे सांसद इंदर सिंह नामधारी की गाड़ी जैसे ही लाडू मोड से आगे बढी सडक पर जबर्दस्त विस्फ़ोट हुआ जिसकी चपेट में नामधारी की गाड़ी के पीछे चल रहा सुरक्षा वाहन आ गया.

इस बीच नामधारी ने बताया है कि वह सुरक्षित है. उन्होंने बताया कि विस्फ़ोट से उनकी गाड़ी भी बुरी तरह हिल गयी लेकिन उनके चालक ने तेजी से कार आगे बढायी और मेदिनीनगर पहुंचा दिया. उनके पीछे चल रहे सुरक्षा वाहन के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं थी.