पहला पन्ना >राजनीति >कर्नाटक Print | Share This  

विदेश मंत्री कृष्णा भी अब खनिज घोटाले में

विदेश मंत्री कृष्णा भी अब खनिज घोटाले में

बेंगलुरु. 8 दिसंबर 2011

एस एम कृष्णा


कर्नाटक में खनिज घोटाले के घेरे में अब विदेश मंत्री एस एम कृष्णा भी आ गये हैं. गुरुवार को लोकायुक्त ने राज्य के दो मुख्यमंत्रियों समेत विदेश मंत्री एस एम कृष्णा के खिलाफ अवैध खनन घोटाले में मामला दर्ज किया है. इस तरह राज्य के चार मुख्यमंत्री येदुयुरप्पा, एन.धर्म सिंह, कृष्णा और कुमारस्वामी खनिज घोटाले की जद में हैं. इधर इस मामले में कृष्णा ने अपने को बेगुनाह बताया है, वहीं टीम अन्ना की सदस्य किरण बेदी ने कहा है कि कृष्णा को तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिये.

गौरतलब है कि एस एम कृष्णा 1993 से 2003 तक कर्नाटक के मुख्यमंत्री थे. उनके खिलाफ आरोप है कि उन्होंने गलत तरीके से खनिजों के लायसेंस जारी किये, जिससे सरकार को करोड़ों का नुकसान हुआ है. कृष्णा के अलावा इस मामले में 11 नौकरशाहों को भी घोटाले का दोषी माना गया है.

इधर अपने खिलाफ मामला दर्ज किये जाने के बाद विदेश मंत्री एस एम कृष्णा ने कहा कि इस तरह के झूठे मामले से उनका कोई सरोकार नहीं है. उन्होंने कहा कि मुझे न्यायपालिका में पूरा भरोसा है और इस तरह की मेरे चरित्र हनन की तमाम अपवित्र कोशिशों को न्यायपालिका दूध का दूध और पानी का पानी की तरह साफ कर देगी.

उन्होंने कहा कि मेरे पास कभी खान और भूगर्भ विभाग नहीं रहा और ना ही मेरे कार्यकाल में कोई खनन लाइसेंस जारी नहीं किया गया. अगर ऐसे लाइसेंस जारी भी किए गए हैं तो खनन और भूगर्भ विभाग के सक्षम अधिकारियों ने ऐसा किया होगा. इसमें मेरी कोई भूमिका नहीं है.

इस मामले में टीम अन्ना की सदस्य किरण बेदी ने कहा है कि विदेश मंत्री एस एम कृष्णा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के बाद यह बात साफ हो गई है कि यह पुख्ता तथ्यों के आधार पर ही दर्ज किया गया होगा. ऐसी स्थिति में कृष्णा को अपना पद छोड़ देना चाहिये.