पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

सेक्स रैकेट चलाने वाली महिला को मौत की सजा

सेक्स रैकेट चलाने वाली महिला को मौत की सजा

चोंगकिंग. 9 दिसंबर 2011

वांग ज़िकी


चीन में सेक्स रैकेट चलाने वाली एक महिला वांग ज़िकी को मौत की सजा दे दी गई है. इस महिला को पिछले साल अगस्त में मौत की सजा सुनाई गई थी. शुक्रवार को इस महिला को मौत की नींद सुला दिया गया.

चीन के चोंगकिंग शहर में वहां के वामपंथी शासक वेश्यावृत्ति को रोकने की हरसंभव कोशिश कर रहे हैं. शहर में वेश्यावृत्ति और नशीले पदार्थों की रोकथाम के लिये बकायदा अभियान चलाये जाते रहे हैं. इन्हीं अभियानों में दो साल पहले चोंगकिंग शहर में वांग ज़िकी के गिरोह का पर्दाफाश हुआ था.

वांग ज़िकी पर आरोप था कि वांग ने अपनी बहन वांग वानिंग के साथ मिल कर सैकड़ों महिलाओं को वेश्यावृत्ति के जाल में फंसाया. वांग ज़िकी गरीब और मजबूर लड़कियों को ब्यूटी पार्लर और होटलों में बुलाती थी और फिर उनके पहचान पत्र अपने पास रख लेती थी. ज़िकी और उसकी बहन चंगुल में नहीं फंसने वाली लड़कियों को बदनाम करने के लिये सभी तरह के पैंतरे आजमाती थीं और अंततः ऐसी लड़कियों को थक-हार कर इनके गिरोह में शामिल होना पड़ता था. वांग ज़िकी और वांग वानिंग अपने सेक्स रैकेट में काम करने वाली लड़कियों की कमाई भी उन्हें नहीं देती थीं.

2009 में ज़िकी और उसकी बहन को गिरफ्तार किया गया, जिसके बाद उनके खिलाफ सबूत एकत्र किये गये. पुलिस ने पाया कि चोंगकिंग शहर में वांग ज़िकी ने एक बड़ा वेश्यावृत्ति गिरोह बना रखा था. बाद में अदालत ने 2010 में ज़िकी को मौत की सजा सुनाई थी.