पहला पन्ना >राजनीति >अमरीका Print | Share This  

अमरीका ने रोकी पाकिस्तान की आर्थिक मदद

अमरीका ने रोकी पाकिस्तान की आर्थिक मदद

वाशिंगटन. 13 दिसंबर 2011

अमरीका


अमरीका ने पाकिस्तान पर लगाम लगाने की पहली कोशिश के तहत उसे दी जाने वाली 70 करोड़ डॉलर की मदद को रोकने का फैसला किया है. ओसामा बिन लादेन की अमरीकी सैनिकों द्वारा हत्या के बाद जुलाई में भी अमरीका ने 80 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद पर रोक लगा दी थी.

अमरीका ने 2001 से लेकर अब तक पाकिस्तान को रक्षा और आर्थिक मदद के रूप में लगभग 20 अरब डॉलर दिए हैं. माना जा रहा है कि पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था को ठीक-ठीक बनाये रखने में अमरीकी मदद की बड़ी भूमिका रही है.

हाल के दिनों में पाकिस्तान ने जिस तरह से अमरीका पर आंखें तरेरी हैं, माना जा रहा है कि पाकिस्तान के सहारे पूरे एशियाई देशों में कब्जा करने की अमरीकी मंसूबे को इससे झटका लगा है. जाहिर है, दुनिया का सबसे बड़ा दारोगा अमरीका साम-दाम-दंड-भेद की तमाम नीतियों पर अमल करते हुये पाकिस्तान को सबक सीखाने का कोई भी अवसर नहीं चुकना चाहता.

अमरीका ने ताजा आर्थिक मदद को रोकने के लिये पाकिस्तान में मिलने वाले देसी विस्फोटकों का बहाना बनाया है. अमरीका का कहना है कि अफगानिस्तान में नाटो और अमरीकी सेना के खिलाफ जो देसी विस्फोटक इस्तेमाल किये जा रहे हैं, वे पाकिस्तान से ही मिल रहे हैं. पाकिस्तान जब तक इन देसी विस्फोटकों के विरुद्ध अभियान नहीं चलाता, तब तक अमरीका उसे कोई भी आर्थिक मदद नहीं देगा.

अमरीकी मदद रोकने के फैसले को लेकर प्रतिनिधि सभा में रिपब्लिकन पार्टी के सदस्य हॉवर्ड मैकियॉन ने बताया कि अमरीका पाकिस्तान से ये आश्वासन चाहता है कि अमरीका की सहयोगी सेनाओं को निशाना बनाने के लिए जिन देसी विस्फोटकों का इस्तेमाल हो रहा है, उससे निबटने में पाकिस्तान अमरीका का सहयोग कर रहा है.