पहला पन्ना >राजनीति >उ.प्र. Print | Share This  

डीपी यादव ने कहा-अखिलेश बच्चा है

डीपी यादव ने कहा-अखिलेश बच्चा है

लखनऊ. 7 जनवरी 2012

डीपी यादव


डीपी यादव ने कहा है कि समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव अभी बच्चे हैं. उनकी हरकतें स्कूल कॉलेज के नौजवानों की तरह की हैं. डीपी यादव ने कहा कि अखिलेश यादव भले सांसद हैं लेकिन उम्र के साथ जो गंभीरता आनी चाहिये, वह गंभीरता अखिलेश यादव में नहीं है.

गौरतलब है कि बाहुबली विधायक डीपी यादव को समाजवादी पार्टी में शामिल करने की घोषणा की गई थी लेकिन समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के बेटे और सांसद अखिलेश यादव ने इसका विरोध किया था और डीपी यादव का सपा प्रवेश रुक गया था.

31 दिसंबर को एक जनसभा में सपा नेता आजम खान ने बसपा के बाहुबली विधायक डीपी यादव के समाजवादी पार्टी में शामिल होने की घोषणा की थी. लेकिन उसके अगले ही दिन मुलायम सिंह यादव के बेटे और पार्टी नेता अखिलेश यादव ने कह दिया कि उनके रहते समाजवादी पार्टी में डीपी यादव के लिये कोई जगह नहीं है.

अखिलेश यादव के बयान के बाद पार्टी के प्रवक्ता और वरिष्ठ नेता मोहन सिंह ने साफ किया कि डीपी यादव को लेकर संसदीय समिति फैसला करेगी. उन्होंने कहा था कि डीपी यादव के खिलाफ किसी भी तरह का आपराधिक मामला नहीं है और हर बार वे विधानसभा में चुन कर आते हैं. ऐसे में उनके समाजवादी पार्टी में आने से पार्टी और मजबूत होगी.

उन्होंने यह भी कहा था कि इस बारे में अंतिम फैसला पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव करेंगे. लेकिन आजम खान के साथ खड़ा होना मोहन सिंह के लिये परेशानी का कारण बन गया. समाजवादी पार्टी को अपने प्रवक्ता का इस तरह अध्यक्ष के खिलाफ बयान देना इतना नागवार गुजरा कि उसने अगले ही दिन पार्टी प्रवक्ता की छुट्टी कर दी.

अब डीपी यादव ने अपना मुंह खोलते हुये कहा कि समाजवादी पार्टी में उन्हें शामिल करने को लेकर बातचीत हुयी थी. लेकिन बाद में यह सब कुछ टल गया. इसके बाद सपा नेता अखिलेश यादव पता नहीं मेरे खिलाफ क्या-क्या बोलना शुरु कर दिया. डीपी यादव ने सफाई दी कि न तो उन्हें बसपा से निकाला गया और ना ही उन पर कोई आरोप हैं. डीपी यादव ने यह भी आरोप लगाया कि उनके खिलाफ रासुका लगाने वाली पार्टी के प्रति उनके मन में कोई सहयोग की भावना नहीं है.