पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >बात Print | Share This  

अन्ना हजारे कर रहे हैं पॉलिटिकल रेप

अन्ना हजारे कर रहे हैं पॉलिटिकल रेप

मुंबई. 8 जनवरी 2012

बाल ठाकरे


शिवसेना सुप्रीमो बाल ठाकरे ने अन्ना हजारे पर आरोप लगाते हुये कहा है कि अन्ना हजारे देश में जो कुछ कर रहे हैं, वह पॉलिटिकल रेप है. बाल टाकरे ने कहा है कि अन्ना हजारे की पूरी टीम अयोग्य लोगों का हुजूम है.

शिवसेना के मुखपत्र सामना में बाल ठाकरे ने अपना इंटरव्यू प्रकाशित किया है, जिसमें बाल ठाकरे ने टीम अन्ना की भरपूर आलोचना की है. अन्ना हजारे का नाम लिये बगैर उन्होंने कहा कि टीम अन्ना के बीच मतभेद हैं. केजरीवाल , बेदी और सिसोदिया बेकार लोग हैं.

अन्ना हजारे के अनशन पर टिप्पणी करते हुये बाल ठाकरे ने कहा है कि यह अनशन फाइव स्टार कार्पोरेट अनशन है. वे लोग मामूली चीजों के लिए अनशन कर रहे हैं. वे मामूली कारणों से भूख हड़ताल पर चले जाते हैं. किसी की मांग करते हैं और उसे पूरा करने के लिए मजबूर करते हैं. यह और कुछ नहीं बल्कि पॉलिटिकल रेप है.

बाल ठाकरे ने आरोप लगाया कि टीम अन्ना सरकार के साथ धोखाधड़ी कर रही है. उन्होंने कहा कि क्या सचमुच में देश को लोकपाल बिल की जरूरत है. लेकिन ऐसा करते हुये उन्होंने सरकार की तारीख नहीं की है. कांग्रेस और खास तौर पर राहुल गांधी का मजाक उड़ाते हुये उन्होंने कहा है कि कल जन्म हुआ और आज वह प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं. क्या प्रधानमंत्री पद नीलामी के लिए है?

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

skvrama [pratikchha01@yahoo.com] mumbai - 2012-01-08 16:29:39

 
  बाल ठाकरे अन्ना को छोड़ो खुद की देखो. खुद को हिन्दू सम्राट कहते हो मुसलमान के खिलाफ हिन्दुओ को भड़काते हो. वक्त आने पे मुसलमानों को दामाद बना लेते हो. खुद को हिन्दू कहते हुये शर्म नहीं आती.  
   
 

dingbabaji [] India - 2012-01-08 16:01:05

 
  This is totally wrong and not fair. We all are with team Anna. Politicians don\'t want to bring a strong lokpal bill because they are guilty and also worried about their future. 
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in