पहला पन्ना >राजनीति >मध्यप्रदेश Print | Share This  

शिवराज के सूर्य नमस्कार पर फतवा

शिवराज के सूर्य नमस्कार पर फतवा

भोपाल. 11 जनवरी 2012

सूर्य नमस्कार


मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा गुरुवार को विवेकानंद के जन्मदिन पर सूर्य नमस्कार का विश्व रिकॉर्ड बनाने के प्रयास को गहरा झटका लगा है. कुछ मुस्लिम नेताओं ने सूर्य नमस्कार को गैर इस्लामिक बताते हुये कहा है कि इस कार्यक्रम में इस्लाम में आस्था रखने वालों को भाग नहीं लेना चाहिये.

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश की सरकार ने सूर्य नमस्कार को अपना एक बड़ा आयोजन मानते हुये राज्य के सभी शिक्षण संस्थानों को 12 जनवरी को खास समय पर सूर्य नमस्कार का कार्यक्रम आयोजित करने का कड़ा निर्देश जारी किया है. सरकारी अमला इस काम में जोर-शोर से जुटा हुआ है. मध्यप्रदेश सरकार चाहती है कि इस सूर्य नमस्कार में इतने लोग शामिल हों कि यह एक विश्व रिकार्ड बन जाये.

इस बीच सरकारी प्रयासों को गहरा झटका देते हुये कुछ मुसलमान धार्मिक नेताओं ने कहा है कि सूर्य नमस्कार इस्लाम के खिलाफ है. यह मूर्ति पूजा की तरह है, जो इस्लाम में हराम माना गया है. इस मुद्दे को लेकर मुस्लिम धार्मिक नेताओं ने फतवा भी जारी किया है. भोपाल शहर के काजी ने भी इन फतवों को सही ठहराया है.

उधर राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा है कि सूर्य नमस्कार को किसी के लिये अनिवार्य नहीं किया गया है. हम चाहते हैं कि राज्य के अधिक से अधिक लोग इस स्वास्थ्यवर्धक आसन में अपनी सहभागिता निभायें.