पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

आडवाणी चाहते हैं देश में अनिवार्य मतदान

आडवाणी चाहते हैं देश में अनिवार्य मतदान

नई दिल्ली. 26 जनवरी 2012

लालकृष्ण आडवाणी


भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने कहा है कि देश में मतदान को अनिवार्य किया जाना चाहिये. गणतंत्र दिवस के अवसर पर उन्होंने कहा कि मुझे अनिवार्य वोटिंग भारत में कोई नामुमकिन लक्ष्य नहीं लगता. जनता को प्रोत्साहित करना होगा कि उन्हें लोकतंत्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी पूरी करनी है.

अपने निवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि चुनाव आयोग द्वारा देश के सभी नागरिकों को वोटर के रूप में रजिस्टर्ड करने की योजना जरुर है. लेकिन यह भी सुनिश्तिच किया जाना चाहिये कि जो लोग भी चुनाव आयोग में रजिस्टर्ड हैं, वो मतदान भी करें. आडवाणी ने कहा कि देश में वोटिंग का प्रतिशत बढ़ना चाहिये और यह सौ प्रतिशत तक पहुंचे.

भाजपा के इस वरिष्ठ नेता ने कहा कि जब देश में शिक्षा का अधिकार मौलिक अधिकार बन गया है तो यह नागरिकों की मौलिक जिम्मेवारी बनती है कि वे मतदान को भी मौलिक जिम्मेवारी मानें. उन्होंने कहा कि चुनाव चुधार में चुनाव आयोग की महत्वपूर्ण भूमिका है लेकिन यह राज्य सरकार और राजनीतिक दलों की भी जिम्मेवारी है कि वो इस दिशा में प्रयास सुनिश्चित करें.

लालकृष्ण आडवाणी के इस विचार को लेकर देश के कानून मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि यह कोई चलते-फिरते बयान देने लायक मामला नहीं है. सलमान खुर्शीद का कहना था कि यह अत्यतं गंभीर विषय है और किसी को आप जबरन वोट देने के लिये बाध्य नहीं कर सकते.