पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

चिदंबरम के बचाव में कांग्रेस, विपक्ष ने मांगा इस्तीफा

चिदंबरम के बचाव में कांग्रेस, विपक्ष ने मांगा इस्तीफा

नई दिल्ली. 2 फरवरी 2012

पी चिदंबरम


2जी घोटाले में उच्चतम न्यायालय के गुरुवार को आये फैसले के बाद कांग्रेस ने जहां पी चिदंबरम को निर्दोष बताया है, वहीं विपक्षी दलों ने पी चिदंबरम के इस्तीफे की मांग की है. विपक्ष का आरोप है कि पूरे मामले में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी जिम्मेवार है. इधर टीम अन्ना के सदस्य और एक याचिकाकर्ता वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने इस फैसले को देश की जीत बताया है.

कोर्ट के फैसले के बाद संचार मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा 2जी घोटाले के लिये पी. चिदंबरम और मनमोहन सिंह जिम्मेदार नहीं हैं. चिदंबरम ने वही किया, जो एनडीए का फैसला था. ऐसे में तो एनडीए और भाजपा को आम जनता से माफी मांगनी चाहिये. कपिल सिब्बल ने कहा कि सरकार कोर्ट के आदेश का सम्मान करती है. ट्राई को 2जी स्पेक्ट्रम की नए सिरे से नीलामी के लिए गाइडलाइन तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं. हम ट्राई की सिफारिशों का इंतजार कर रहे हैं.

कपिल सिब्बल के बयान के बाद भाजपा प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला अभी तक अदालत की वेबसाइट पर उपलब्ध नहीं है, जिसका हवाला देकर सिब्बल चिदंबरम और पीएम को बेगुनाह ठहरा रहे हैं. प्रसाद ने चिदंबरम के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि उन्हें सरकार में बने रहने का हक नहीं है. उन्होंने सिब्बल से देश की जनता से माफी मांगने को कहा.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी क्या आज इस मामले की जिम्मेदारी लेंगी? देश इस बारे में उनकी राय जानना चाहता है. केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने सीएजी की रिपोर्ट का सार्वजनिक तौर पर मजाक उड़ाते हुए कहा था कि 2 जी स्पेक्ट्रम में कोई घाटा नहीं हुआ है. क्या सुप्रीम कोर्ट द्वारा लाइसेंस रद्द किए जाने के बाद भी वे चिदंबरम को बेकसूर बताएंगे? रविशंकर प्रसाद ने पी चिदंबरम को इस्तीफा देने की भी सलाह दी.