पहला पन्ना >राजनीति >उ.प्र. Print | Share This  

बहुमत नहीं तो उत्तरप्रदेश में राष्ट्रपति शासन-दिग्विजय

बहुमत नहीं तो उत्तरप्रदेश में राष्ट्रपति शासन-दिग्विजय

नई दिल्ली. 8 फरवरी 2012

दिग्विजय सिंह


उत्तर प्रदेश में मतदान से ऐन पहले कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने इशारों-इशारों में साफ कर दिया है कि अगर उनकी सरकार नहीं बनी तो वह उत्तर प्रदेश में किसी और की भी सरकार नहीं बनने देंगे. कांग्रेस ने साफ कर दिया है कि अगर राज्य में किसी को बहुमत नहीं मिला तो उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाया जाएगा.

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में अगर किसी पार्टी को बहुमत नहीं मिला तो भी कांग्रेस किसी के साथ मिल कर सरकार नहीं बनाएगी. उनकी बातों के निहितार्थ यही हैं कि बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में कांग्रेस राष्ट्रपति शासन के लिये तैयार बैठी है. इससे पहले राहुल गांधी भी साफ कर चुके हैं कि उत्तर प्रदेश में किसी भी पार्टी के साथ चुनाव बाद भी वे सत्ता के लिये गठबंधन नहीं करेंगे.

हालांकि पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने एक बार फिर दुहराया है कि उत्तर प्रदेश में पार्टी को बहुमत मिलने वाला है, ऐसे में राष्ट्रपति शासन के बारे में बात करना ही बेकार है. उन्होंने साफ किया कि अगर बहुमत नहीं मिला तो भी कांग्रेस ऐसी कोई कोशिश नहीं करेगी.