पहला पन्ना >राजनीति >आतंकवाद Print | Share This  

लादेन से भी मिला था हारून नाइक

लादेन से भी मिला था हारून नाइक

मुंबई. 8 फरवरी 2012

ओसामा बिन लादेन


मुंबई एटीएस का दावा है कि मुंबई हमले के आरोपी हारून नाइक ने अमरीका में 9/11 को हुये हमले से ठीक एक महीने पहले उसने अलकायदा सुप्रीमो ओसाबा बिन लादेन से पाकिस्तान में मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद ही उसे ओसामा के निर्देश पर अफगानिस्तान में विशेष प्रशिक्षण दिया गया था. उसने ओसामा से ही भारत में धमाके की प्रेरणा ली और समय देख कर मुंबई में इसे अंजाम भी दिया.

पिछले साल फरवरी से मुंबई एटीएस की हिरासत में 35 वर्षीय हारून नाइक से पूछताछ चल रही है. उल्लासनगर से डिजिटल टेक्नॉलजी में डिप्लोमा करने वाले हारून नाइक के परिजनों का आरोप है कि वह बेकसूर है लेकिन एटीएस का कहना है कि उसके दुनिया के दूर्दांत आतंकियों से संबंध हैं. हालांकि हारून के खिलाफ जो बात साबित होने के आसपास है, वो केवल हवाला के जरिये कुछ लोगों को रुपया मुहैय्या कराने का है. यहां यह भी गौरतलब है कि इससे पहले भी मुंबई एटीएस सनसनीखेज राज सामने लाता रहा है लेकिन अदालती कार्रवाई में इस बारे में कोई सबूत नहीं होता और कई मामलों में तो कथित खूंखार आतंकी बाइज्जत बरी हो जाते हैं. एटीएस सूत्रों का कहना है कि 22 अगस्त 2010 को हारुन को मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा से फर्जी नोटों के साथ गिरफ्तार किया गया था.

एटीएस के सूत्रों का कहना है कि हारून को अगस्त में रियाज भटकल ने पाकिस्तान भेजा था. पाकिस्तान में अगस्त 2001 में पाकिस्तान में लादेन का भाषण सुनने के बाद तय किया था कि वह भी जेहादी बनेगा. इसके बाद उसने लश्कर के नेता जकी-उर-रहमान लख्वी से मुलाकात करके उसे अपनी इच्छा बताई.