पहला पन्ना >राजनीति >समाज Print | Share This  

मटका छूने पर दलित युवक का हाथ काट डाला

मटका छूने पर दलित युवक का हाथ काट डाला

हिसार. 16 फरवरी 2012

दलित युवक का हाथ


हिसार में एक दलित युवक ने सवर्ण किसान के मटके से पानी क्या पी लिया, उसकी जान पर बन आई. दलित युवक द्वारा मटका छूने से किसान का बेटा इतना नाराज हुआ कि उसने दलित युवक के हाथ दरांती से काट डाले. युवक को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत चिंताजनक बताई जाती है.

घटना हिसार के उकलाना थाना के दौलतपुर की है. फतेहाबाद जिले के सनियाणा गांव का 31 साल का राजेश नामक दलित युवक पिछले कुछ दिनों से दौलतपुर में कपास की लकड़ियां काटने का काम कर रहा था. एक ठेकेदार के अधिन काम करने वाले राजेश को बुधवार को काम करने के दौरान प्यास लगी. उसने पास के ही खेत में रखे मटके से पानी पी लिया.

राजेश का आरोप है कि पानी पीने के तुरंत बाद खेत के मालिक का लड़का वहां आ पहुंचा और उसने राजेश से उसकी जाति पूछी. राजेश ने जब उसे बताया कि वह दलित है तो आरोपी युवक आग बबूला हो गया और इससे पहले की राजेश कुछ कह-समझ पाता, आरोपी ने अपनी साइकिल में लगी दरांती से उस पर हमला कर दिया.

आरोपी युवक ने राजेश के हाथ पर दरांती से इस तरह वार किया कि उसका हाथ कट गया. बड़ी मुश्किल से जान बचा कर राजेश वहां से भागा और अपने ठेकेदार तक पहुंचा. वहां से उसे उकलाना सिविल अस्पताल में ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे हिसार के लिये रेफर कर दिया.

इस मामले में राजेश के परिजनों ने आरोपी युवक पप्पू के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है लेकिन पुलिस ने अभी तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की है. हालांकि आरोपी युवक पप्पू और उसके पिता रामचंद्र समेत दौलतपुर के सरपंच ने राजेश के परिजनों पर लगातार इस बात के लिये दबाव बनाया कि वह इस मामले में पप्पू का नाम न ले और पुलिस से अपना बयान वापस ले ले.