पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >उ.प्र. Print | Share This  

राहुल गांधी ने फाड़ी थी कांग्रेसी नेताओं की लिस्ट

राहुल गांधी ने फाड़ी थी कांग्रेसी नेताओं की लिस्ट

लखनऊ. 16 फरवरी 2012

राहुल गांधी


कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने बुधवार को समाजवादी पार्टी का घोषणा पत्र नहीं, कांग्रेस की सूची फाड़ी थी. इस सूची में उस दिन की सभा में मौजूद कांग्रेसी नेताओं के नाम अंग्रेजी में लिखे हुये थे. यह सब एक वीडियो शूटिंग में उजागर हुआ है.

गौरतलब है कि बुधवार को राहुल गांधी ने लखनऊ में एक चुनावी सभा के दौरान समाजवादी पार्टी को बहुत खरी-खोटी सुनाई थी. उन्होंने सपा पर हमला बोलते हुये कहा कि मुलायम सिंह जी के पास तो वादों की सूची रहती है. वह कहते हैं कि भैया हम बिजली देंगे. रोजगार देंगे. रोजगार नहीं दे पाए तो बेरोजगारी भत्ता देंगे. वही सूची बार-बार निकलती है. सूची, वादों की सूची. ये लो. यह सब कुछ कहने के बाद राहुल गांधी ने अपने हाथ में रखे कागज को समाजवादी पार्टी का घोषणापत्र बता कर उसे फाड़ दिया था.

राहुल गांधी की इस आक्रमकता को लेकर खूब हंगामा हुआ था. कांग्रेसी नेताओं ने जहां इसे एक स्वाभाविक अभिव्यक्ति कहा था, वहीं समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने कहा था कि राहुल गांधी अगर ऐसी ही हरकतें करते रहे तो एक दिन वे मंच से भी कूद जाएंगे.

गुरुवार को जब राहुल गांधी की सभा की वीडियो रिकार्डिंग देखी गई तो यह राज उजागर हुआ कि राहुल गांधी के हाथ में कांग्रेसी नेताओं की सूची है. अंग्रेजी में लिखी गई इस सूची में कांग्रेस के दर्जन भर नेताओं के नाम थे. इन्हीं नामों वाले कागज को उन्होंने समाजवादी पार्टी का घोषणापत्र बताते हुये उसे फाड़ दिया था.अब राजनीतिक गलियारे में इस बात की चर्चा है कि आखिर राहुल गांधी को ऐसी नौटंकी की जरुरत क्यों आ पड़ी. जाहिर है, राहुल गांधी की इस सभा की तस्वीरों ने उनकी हरकत की पोल खोल दी है और विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे को हवा देने पर तुली हुई हैं.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in