पहला पन्ना > राजनीति > दिल्ली Print | Send to Friend 

वीपी सिंह का निधन | Ex PM VP SINGH no more

पूर्व प्रधानमंत्री वीपी सिंह का निधन

नई दिल्ली. 27 नवंबर 2008


भारत के पूर्व प्रधानमंत्री विश्वनाथ प्रताप सिंह का आज तड़के दिल्ली के अपोलो अस्पताल में निधन हो गया. 77 वर्षीय श्री सिंह रक्त कैंसर से पीड़ित थे और पिछले सप्ताह भर से उन्होंने कुछ भी खाना-पीना बंद कर दिया था.

उनका अंतिम संस्कार शुक्रवार को दिल्ली में होगा.

25 जून 1931 को इलाहाबाद में जन्मे वीपी सिंह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रहे थे. इसके अलावा वे राजीव गांधी के शासनकाल में देश के वित्त मंत्री और रक्षा मंत्री के पद पर भी रहे.

राजीव गांधी से विवाद के बाद उन्होंने कांग्रेस पार्टी से त्यागपत्र दे दिया और जनमोर्चा का गठन किया. 1988 में उन्होंने कुछ औऱ दलों का आपस में विलय कर जनता दल की नींव रखी और अगले ही साल उन्होंने वाम मोर्चा और भाजपा के बाहरी समर्थन से भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला.

अपने गृहमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी रुबिया सईद के अपहरण के बाद जेल में बद कुछ कश्मीरी चरमपंथियों को छोड़े जाने के उनके निर्णय की देश भर में आलोचना हुई. इसके बाद मंडल आयोग की अनुशंसाओं को लागू किए जाने की उनकी घोषणा से देश भर में भारी विवाद खड़ा हुआ था.

1989 में जब भाजपा नेता लालकृष्ण अडवाणी ने राम मंदिर के मुद्दे पर रथ यात्रा निकाली तो बिहार में जनता दल की सरकार वाले मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद भाजपा ने केंद्र सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया और विश्वनाथ प्रताप सिंह को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी.