पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राज्य >छत्तीसगढ़ Print | Share This  

एसपी के सुसाइड पर सस्पेंस

एसपी के सुसाइड पर सस्पेंस

बिलासपुर. 12 मार्च 2012 सुनील शर्मा

राहुल शर्मा


बिलासपुर के एसपी राहुल शर्मा की मौत के कारणों को लेकर अटकलों का दौर जारी है. एक तरफ जहां उनके आत्महत्या की बात कही जा रही है, वहीं छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रवींद्र चौबे ने कहा है कि राहुल शर्मा की मौत आत्महत्या नहीं, हत्या भी हो सकती है. रवींद्र चौबे ने राहुल शर्मा की मौत के मामले में हत्या की आशंका के मद्देनजर पूरे मामले की जांच की मांग की है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और राज्य के पूर्व गृहमंत्री नंदकुमार पटेल ने भी मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है.

गौरतलब है कि सोमवार की दोपहर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में पदस्थापित आईपीएस अधिकारी राहुल शर्मा का शव पुलिस ऑफिसर्स मेस में पाया गया. पुलिस के अनुसार अभी तक कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है लेकिन सू़त्रों का कहना है कि 2002 बैच के आईपीएस अधिकारी राहुल शर्मा पिछले कुछ दिनों से पारिवारिक वजह से तनाव में थे. बिलासपुर के आईजी जीपी सिंह के साथ भी उनकी अनबन होने की भी खबर है. कहा जा रहा है कि वे आईजी की कार्यशैली से दुखी थे और खुलकर काम नहीं कर पा रहे थे.

राहुल शर्मा की पत्नी गायत्री शर्मा दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के बिलासपुर जोन में पदस्थ हैं. आईपीएस अधिकारी अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रेलवे कालोनी के मकान में ही रहते थे. वे पिछले 15 दिनों से अवकाश पर थे और क्रिकेट खेलने के दौरान उनके पैर पर चोट लगी थी. उन्होंने रविवार को ही ड्यूटी ज्वाइन की थी.

कल रात अचानक वे आफिसर्स मेस पहुंचे और मुख्य इमारत के बाहर स्थित एक कमरे में ठहरे. ऐसा पहला मौका था कि वे जब वे रेलवे कालोनी का मकान छोड़कर आफिसर्स मेस में रुके थे. उनके पास सिविल लाईन में भी एक बंगला था लेकिन वे वहां भी नहीं गये.

सोमवार की सुबह राहुल शर्मा के गनैमन ने उन्हें नाश्ते के लिये पूछा तो उन्होंने बाद में नाश्ता करने की बात कही. बाद में वे एक बैठक में भी गये. दोपहर डेढ़-दो बजे के बीच राहुल शर्मा का गनमैन उन्हें भोजन के लिए कमरे में पूछने गया तो उसने पाया कि राहुल शर्मा की लाश बाथरुम के दरवाजे के पास लहुलुहान हालत में पड़ी थी. उनके सिर पर गोली चलने से सुराख हो गया था. पास ही उनकी सर्विस रिवाल्वर पड़ी थी. कमरे में उनका सामान बिखरा हुआ था. राहुल शर्मा ने गनमैन से ड्यूटी पर जाने की बात कही थी लेकिन उनकी देह पर वर्दी की जगह रोजमर्रा पहने जाने वाले कपड़े ही थे.

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस मामले में गहरा दुख एवं संवेदना प्रकट की है. उन्होंने कहा कि राहुल शर्मा जैसे युवा और प्रतिभाशाली आफिसर को खो देने पर मुझे बेहद अफसोस है.

राहुल शर्मा के साथ काम कर चुके रायगढ़ एसपी विवेक शुक्ला का कहना है कि यह समझ से परे है कि उन्होंने आत्हत्या जैसा कठोर कदम क्यों उठाया. वे बेहद जिम्मेदार, मिलनसार और सुलझे हुए अफसर थे और अपने परिवार को बहुत प्रेम करते थे.

इधर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नंद कुमार पटेल ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने मुख्यमंत्री से मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है. नेता प्रतिपक्ष रवींद्र चौबे ने भी एसपी राहुल शर्मा की मौत को संदेहास्पद बताते हुये पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है. उन्होंने कहा कि राहुल शर्मा की मौत, हत्या भी हो सकती है. ऐसे में पूरे मामले की जांच जरुरी है.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

shobhit [shobhitonly@gamil.com] uttar pradesh - 2012-03-13 05:16:58

 
  हमें इस बात पर अफसोस है कि आज की तारीख में अफसरों पर राजनीतिज्ञ भारी पड़ रहे हैं. बेहद अफसोस... 
   
 

raghav sharna [raghavhdfc1@gmail.com] agra - 2012-03-13 02:30:11

 
  मुरैना में आईपीएस की हत्या घटना के बाद ये एक औऱ वारदात है. क्या यह कहीं कोई राजनीतिक षडयंत्र तो नहीं है ? इसकी जांच होनी चाहिये. बिलासपुर में आईपीएस की हत्या एक शर्मनाक पहलू है. 
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in