पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

टाइम ने काढ़े नरेंद्र मोदी के कसीदे

टाइम ने काढ़े नरेंद्र मोदी के कसीदे

दिल्ली. 18 मार्च 2012

नरेंद्र मोदी


टाइम पत्रिका का मानना है कि नरेंद्र मोदी ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी को चुनौती दे सकते हैं. टाइम ने अपने ताजा अंक में नरेंद्र मोदी की प्रशंसा में खूब कसीदे काढ़े हैं. टाइम ने कहा है कि 2014 के आम चुनावों में अभी दो साल बचे हैं, जिसके बीच कांग्रेस उम्मीद कर रही है कि सोनिया के पुत्र राहुल पार्टी में नई जान फूंकेंगे, लेकिन हाल के विधानसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद वो कमजोर नजर आ रहे हैं.

टाइम पत्रिका के नये अंक में आवरण पर नरेन्द्र मोदी की गंभीर मुद्रा वाली एक बड़ी तस्वीर छापी गई है, जिसके साथ शीर्षक लिखा गया है- मोदी के इरादे पक्के हैं. लेकिन क्या वो भारत का नेतृत्व कर सकते हैं?

टाइम की संवाददाता ज्योति थोटम के एक लेख में कहा गया है कि इकसठ साल के मोदी शायद एकमात्र ऐसे व्यक्ति हैं जो अपनी पिछली उपलब्धियाँ और व्यापक पहचान के बल पर राहुल को चुनौती दे सकते हैं.

गुजरात दंगों को लेकर कहा गया है कि इस संदर्भ में मोदी का नाम मात्र लिए जाने से, जिनका नाम अमिट तौर पर साल 2002 के गुजरात दंगो से जुड़ा है, भारत का एक वर्ग वितृष्णा से भर उठता है. उन्हें देश का नेता चुने जाने का मतलब होगा भारत का राजनीतिक क्षेत्र में धर्मनिरपेक्षता के आदर्श का त्याग करना. इससे भारत और इस्लामिक देश पाकिस्तान, जहां वो नफरत के पात्र हैं, के बीच संबंधों में कड़वाहट भी पैदा होगी.

लेकिन टाइम इन सब के बाद भी मोदी को विकास पुरुष की श्रेणी में खड़े करने से परहेज नहीं करता. पत्रिका के अनुसार- एक वर्ग जब किसी ऐसे व्यक्ति के बारे में सोचता है जो देश को भ्रष्टाचार के दलदल और निकम्मेपन के शाप से उबार सकता है, जो दृढ़ निश्चय और काम से काम रखने वाला एक ऐसा नेता हो जो देश को विकास की उस राह पर अग्रसर कर सके जहां वो चीन की बराबरी कर सकता है तो मोदी का नाम सामने आता है.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

ramawtar [] siswali - 2012-03-18 03:57:46

 
  मैं पसंद करता हूं कि देश का प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ही हो, क्योंकि मौजूदा समय में ऐसे ही व्यक्ति की जरूरत है देश को.  
   
 

Rajesh Jain [rajesh.rcn@gmail.com] Aurangabad - 2012-03-18 03:46:54

 
  नरेंद्र मोदी सच में राहुल गांधी से अच्छे नेता हो सकते हैं. राहुल गांधी की औकात सिर्फ मुनिसिपल कारपोरेशन के नगरसेवक जितनी ही है. राहुल गांधी को देश की संस्कृति का कोई भी ज्ञान नहीं है. राहुल ना सिर्फ ढंग से भाषण दे सकता है तो विकास के काम कब करेंगे? 
   
 

I.C.Chawla [monu_1940@yahoo.com] jabalpur - 2012-03-18 03:37:04

 
  Before my death I will like to see MODI as PM of INDIA 
   
 

alok nath tripathi [aloknathtripathi@gmail.com] patna - 2012-03-18 03:20:22

 
  नरेंद्र मोदी युगपुरुष की भूमिका में अपने को खड़ा दिखा कर अपने सभी समकक्षों से बहुत आगे जा चुके हैं. राष्ट्र को उनके और महती जिम्मेदारी देनी चाहिए. रही बात गोधरा की तो एक झूठ बजार बार बोलने से सच नहीं हो जाता. कहीं हिंदू ने जाजिया का मुद्दा उठाया या धर्म के नाम पर विभाजन के बाद भारत में मुसलमानों के रहने पर प्रश्न उठाया तो क्या होगा.  
   
 

Be real [] Delhi - 2012-03-18 01:53:35

 
  No body should forget that a train of pilgrims of the majority community was burned by some members of the minority community. Why is time magazine overlooking that? They are lopsided in their coverage and are mentioning only the aftermath. The focus of coverage would have been different if pilgrims were of minority community.  
   
 

Ramprakash Dwivedi [rpdwivedi33@gmail.com] Uttar Pradesh - 2012-03-18 01:21:05

 
  No doubt that Inda needs a man lie Modi.Congress knows the challenge and that\'s why it has been promoting and sponsorjng anti_Modi campaign. 
   
 

shivram Jaiswal [shivramjaiswal@ymail.com] SONEBHADRA - 2012-03-18 00:16:59

 
  yes you are right. i agree with you... 
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in