पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

सेना पर मुकदमा करेंगे तेजेंदर

सेना पर मुकदमा करेंगे तेजेंदर

नई दिल्ली. 26 मार्च 2012

तेजेंदर सिंह


सेना की तरफ से जारी प्रेस रिलीज में घूस की पेशकश का आरोप लगाए जाने के खिलाफ सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल तेजेंदर सिंह कोर्ट जाने की तैयारी में हैं. सेना की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार तेजेंदर सिंह पर आरोप लगाया गया है कि तेजेंदर सिंह ने टेट्रा वेक्ट्रा लिमिटेड की तरफ से घूस की पेशकश की थी. प्रेस रिलीज में यह भी कहा गया है कि तेजेंदर सिंह आदर्श सोसाइटी में भी फ्लैट बुक करवा चुके हैं. टेट्रा वेक्ट्रा बीईएमएल को गाड़ियां सप्लाई करता है. बीईएमल भारतीय सेना को गाड़ियां मुहैया कराती है.

गौरतलब है कि भारतीय सेना के अध्यक्ष जनरल वीके सिंह ने यह कह कर सनसनी फैला दी है कि उपकरणों की बिक्री से जुड़े एक लॉबिस्ट ने उन्हें 14 करोड़ रुपए की रिश्वत का प्रस्ताव दिया था. जिन वाहनों के लिये उन्हें रिश्वत के प्रस्ताव दिये गये थे, वैसे ही वाहन सेना में पहले से ही अधिक कीमत पर खरीदे गये थे.

द हिंदू अखबार के साथ बातचीत में भारतीय सेना के अध्यक्ष जनरल वीके सिंह ने कहा कि एक लॉबिस्ट ने मुझे 14 करोड़ रुपए की रिश्वत देने की कोशिश की. वो खराब क्वालिटी के 600 वाहनों की खरीद के लिए सेना की मंजूरी चाहता था. ऐसे ही सात हज़ार वाहन सेना में इस्तेमाल हो रहे हैं, महंगे दामों ये खरीदे गए थे लेकिन इस पर कोई सवाल नहीं पूछा गया. मैं इस व्यक्ति की जुर्रत देखकर दंग रहा गया. जनरल वीके सिंह ने दावा किया कि उन्होंने ये बात रक्षा मंत्री को भी बताई और कहा था कि अगर उन्हें लगता है वे मिस्फिट हैं तो वे जाने के लिए हैं.

अब सेना की एक विज्ञप्ति में रिश्वत की पेशकश करने वाले के तौर पर तेजेंदर सिंह को नाम की घोषणा से राजनीतिक गलियारों में हंगामा मचा हुआ है. तेजेंदर सिंह ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार देते हुए मुकदमा करने की धमकी दी है.

इधर इस मुद्दे पर विपक्षी पार्टियों के बढ़ते दबाव को देखते हुए रक्षा मंत्री ए के एंटनी ने मामले की सीबीआई जांच के आदेश दे दिए हैं, साथ ही उन्होंने कहा है कि वह इस मुद्दे को बेहद गंभीरता से ले रहे हैं.