पहला पन्ना >राजनीति >बात Print | Share This  

पांच माओवादी रिहा होंगे

पांच माओवादी रिहा होंगे

भुवनेश्वर. 7 अप्रैल 2012

बोसुस्को पाउलो


ओडीशा सरकार ने माओवादियों के सामने घुटने टेकते हुये अंततः पांच माओवादियों को रिहा करने का निर्णय लिया है. इतालवी नागरिक की रिहाई के बदले माओवादियों ने जिन छह साथियों की रिहाई की मांग की थी, उनमें से पांच माओवादी जल्दी ही छोड़े जा सकते हैं.

गौरतलब है कि इतालवी नागरिक बोसुस्को पाउलो को रिहा करने की सरकार की अपील माओवादियों ने खारिज कर दी थी. पाउलो 14 मार्च से माओवादियों के कब्जे में हैं. सीपीआई माओवादी ओडिशा स्टेट ऑर्गेनाइजिंग कमेटी के सचिव सब्यसाची पांडा ने मीडिया को एक ऑडियो संदेश भेजा था और सरकार से साफ जानना चाहा था कि वो कितने लोगों को रिहा कर रही है. माओवादी नेता ने सात लोगों का नाम लिया था जिनकी रिहाई इतालवी नागरिक को छोड़ने का मार्ग प्रशस्त कर सकती है. इनमें चासी मुलिया आदिवासी संघ के सलाहकार गंगानाथ पात्रा, आरती मांझी और कमलकांत सेठी शामिल हैं.

शनिवार को विधानसभा में इस मुद्दे पर बयान देते हुये राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि वह इतालवी नागरिक के अपहर्ताओं की ओर से जिन छह माओवादियों को रिहा करने की मांग की गई है, उनमें से पांच को रिहा करने पर सहमत हो गई है. उन्होंने कहा कि माओवादी छह लोगों आरती मांझी, मनमोहन प्रधान, सुका नचिका, चक्र तादिंगी, बिजय तादिंगी और शुभश्री दास की रिहाई चाहते हैं. नवीन पटनायक ने कहा कि फैसला करते वक्त इतालवी नागरिक की रिहाई के लिए बातचीत में मध्यस्थता कर रहे बी डी शर्मा और दंडपाणि मोहंती के नजरिए को ध्यान में नहीं लिया गया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सदन में राज्य सरकार के स्पष्टीकरण के मद्देनजर मैं एकबार फिर सव्यसाची पांडा के नेतृत्व वाले भाकपा माओवादी की ओडिशा राज्य संगठन समिति से अपील करता हूं कि वह इतालवी नागरिक को तुरंत और बिना कोई नुकसान पहुंचाए रिहा कर दे. उन्होंने लक्ष्मीपुर से बीजद विधायक झीना हिकाका की भी तत्काल रिहाई की अपील की.