पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >छत्तीसगढ़ Print | Share This  

देश को सेना के हवाले करो-विहिप

देश को सेना के हवाले करो-विहिप

रायपुर. 17 अप्रैल 2012

विहिप नेता आचार्य धर्मेंद्र


विश्व हिंदू परिषद के नेता आचार्य धर्मेंद्र ने कहा है कि निर्मल बाबा, रामदेव और अन्ना हजारे भ्रष्ट लोग हैं. ऐसे लोगों की संपत्ति जब्त की जानी चाहिये. उन्होंने कहा कि देश में लोकतंत्र को खत्म करके सेना के हवाले कर देना चाहिये. आचार्य धर्मेंद्र ने कहा कि ऐसे लोगों से देश को बचाने के लिये कठोर कानून बनाने की जरुरत है. उन्होंने लोकपाल के बजाये देश में कठोर और हिंसक कानून बनाने की जरुरत है.

विहिप नेता आचार्य धर्मेंद्र ने कहा कि निर्मल बाबा जैसे धूर्त और ढोंगी बाबाओं की पूरी संपत्ति जब्त कर लेनी चाहिये और सारी संपत्ति सैनिकों के परिवारों को बांट दी जानी चाहिये. आस्था के नाम पर ठगी करने वाले ऐसे बाबाओं के खिलाफ कड़े कानून बनाये जाने की जरुरत है. इसके साथ-साथ ऐसे लोगों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई के लिये सक्षम न्यायालय भी गठित किये जाने की जरुरत है.

रामदेव बाबा को आड़े हाथ लेते हुये रामदासीय वैष्णव संप्रदाय के धर्मगुरु आचार्य धर्मेंद्र ने कहा कि रामदेव पूरी तरह से एक भ्रष्ट व्यापारी है, जो देश-विदेश में घूम-घूम कर योग का सौदा कर रहे हैं. ऐसे लोगों को बेनकाब करने की जरुरत है. टीम अन्ना को भ्रष्ट लोगों की जमात बताते हुये आचार्य धर्मेंद्र ने कहा कि अन्ना हजारे और उनकी पूरी टीम भ्रष्ट है. ऐसे लोग जिस लोकपाल को लाने की मांग कर रहे हैं, उससे भ्रष्टाचार घटने वाला नहीं है. इसके लिये कठोर और हिंसक कानून बनाने की जरुरत है.

यह पूछे जाने पर कि देश में सभी भ्रष्ट हैं तो देश कौन चलाएगा, आचार्य धर्मेंद्र ने कहा कि देश में अगर भ्रष्टाचार खत्म नहीं हो रहा है तो देश में लोकतंत्र खत्म कर देना चाहिये. उन्होंने कहा कि देश को सेना के हवाले कर देना चाहिये. आचार्य धर्मेंद्र ने नोटों पर महात्मा गांधी की फोटो छापने पर की गहरी आपत्ति दर्ज कराई.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

dr rajendra soni [rajramyug@yahoo.co.in] pipariya - 2012-04-18 17:54:22

 
  सबसे पहले तो 1000 और 500 की Currency बंद कीजिए. सभी नेता, बाबा, IAS, IPS, सरकारी अधिकारी, अमीर मंदीर, माफिया समूह को top to bottom काले धन के लिए लाइन से interrogate किजिए. Gold, Currency, Property की नदियां बह जाएंगी. देश तो वैसे ही USA और UPA के हवाले है. सेना भी बिकी हुई सी दिखती है.  
   
 

raghuveer singh bhagasara [] chirawa - 2012-04-17 09:30:01

 
  आचार्य जैसे लोगों को काल कोठरी में डाल देना चाहिए. इन गुंडो की कोई मान ले तो ये इस मुल्क में गुंडो का राज करवा दें लेकिन इनकी धर्म की दुकान का सामान का कोई खरीददार नहीं है.  
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in