पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

संघर्ष को रचनात्मकता देने वाले अनूठे जॉर्

पूर्वोत्तर व कश्मीर में घिरी केंद्र सरकार

भीड़ के ढांचे का सच खुल चुका

अंतिम सांसे लेता वामपंथ

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

पूर्वोत्तर व कश्मीर में घिरी केंद्र सरकार

भीड़ के ढांचे का सच खुल चुका

रिकॉर्ड फसल लेकिन किसान बेहाल

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >छत्तीसगढ़ Print | Share This  

ऐसे हुआ कलेक्टर का अपहरण

ऐसे हुआ कलेक्टर का अपहरण

सुकमा. 21 अप्रैल 2012

कलेक्टर अलेक्स जॉन पॉल


छत्तीसगढ़ के सुकमा में कलेक्टर अलेक्स पॉल मेनन को नक्सलियों ने बड़ी आसानी से निशाना बना लिया. नक्सली उन्हें आसानी से अपने साथ मोटरसाइकल में बैठा कर ले कर चले गये और उनका हमला भौंचक रह गया. जिन गार्डों के भरोसे कलेक्टर थे, उन्हें नक्सलियों ने पहले ही गोली मार दी थी.

गौरतलब है कि नक्सलियों ने शनिवार को बस्तर संभाग के सुकमा जिले के कलेक्टर अलेक्स पॉल मेनन की जब दोपहर केरलापाल के मांझीपारा में किसान सभा चल रही थी, नक्सलियों ने उनके दोनों गार्डों को गोली मार दी और उन्हें अगवा कर लिया. गार्डों के नाम अमजद खान तथा किशन कुजूर हैं. घटना की जानकारी मिलते ही एसीपी के नेतृत्व में सुरक्षाबल को घटना स्थल पर रवाना कर दिया गया है.

इधर राजधानी रायपुर में पुलिस मुख्यालय में आपात बैठक हो रही है. गृहमंत्री समेत तमाम आला अफसर स्थिति नगातार नजर रख रहे हैं. गृहमंत्री ने नक्सलियों से अगवा कलेक्टर को छोडऩे की अपील की है. केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ से पूरे घटनाक्रम का ब्यौरा मांगा है. सीमावर्ती इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया है. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को भी घटना की जानकारी दे दी गई है.

शनिवार शाम करीब साढ़े 4 बजे केरलापाल के मांझीपारा में ग्राम सुराज शिविर लगा था. बताया गया कि पहले से कुछ नक्सली ग्रामीण वेशभूषा में वहां मौजूद थे. वहां मौजूद एक सूत्र ने बताया कि कलेक्टर शिविर में बैठे हुए थे तभी एक ग्रामीण वहां पहुंचा और मांझीपारा में किसी काम दिखाने की बात उन्हें कही. जिस पर कलेक्टर अपनी स्कार्पियों में कुछ ही दूर निकले थे तभी 10 से 15 नक्सली मोटर साइकिल में उनकी वाहन को घेर लिया और पूछा कलेक्टर कौन हैं. तभी अन्य नक्सलियों ने उनके दो गनमैन को गोली मार दी और कलेक्टर के वाहन चालक नरेंद्र नेगी से कहा कि हम पूछताछ कर कलेक्टर को छोड़ देंगे तुम जाओ. फिर कलेक्टर को मोटरसाइकिल में बिठाकर ले गए. कलेक्टर की वाहन के पीछे अन्य अधिकारियों की गाडिय़ां थीं जो वहां से वापस केरलापाल पहुंचकर घटना की जानकारी दी.

घटना में शहीद गनमैन अमजद खान नगरी तथा किशन कुजूर रायगढ़ निवासी बताए गए हैं. दोनों डीएफ के जवान बताए गए हैं. इधर आईजी इंटेलिजेंस मुकेश गुप्ता ने एक न्यूज चैनल को दिए बयान में मामले की पुष्टि की है. सुकमा एसपी के नेतृत्व में जवानों का दल सर्चिंग कर रहा है.

कलेक्टर अलेक्स पाल मेमन 2006 बैच के आएएस अधिकारी हैं और मूलत: तमिलनाडु के निवासी हैं. बताया गया कि उनके परिजन कल ही सुकमा से तमिलनाड़ु के लिए निकले हैं.

ज्ञात हो कि नक्सलियों ने शुक्रवार को ग्राम सुराज अभियान से लौट रहे सरकारी वाहनों के काफिले को निशाना बनाया और बारूदी सुरंग विस्फोट कर एक वाहन को उड़ा दिया. इसमें जिला पंचायत सदस्य महेश पुजारी, भाजपा मंडल अध्यक्ष भैरमगढ़ पुरूषोत्तम ठाकुर व वाहन चालक अश्विनी शर्मा की मौके पर ही मौत हो गई. एक अन्य भाजपा कार्यकर्ता अभिषेक ठाकुर को गंभीर चोट आई हैं. हादसे में संसदीय सचिव व क्षेत्रीय विधायक महेश गागड़ा व कलेक्टर सहित अन्य लोग बाल-बाल बच गए. हादसा मद्देड़ से चार किमी आगे तोगड़ापल्ली के पास हुआ. आठ गाडिय़ों का काफिला ग्राम सुराज से भोपालपट्नम से बीजापुर आ रहा था.

यहां यह भी उल्लेखनीय हो कि बीते दिनों ओडिशा में इटली के दो पर्यटकों और उसके बाद एक विधायक झिका हिकाका को बंधक बना लिया गया था. बाद में दोनों इतालवी नागरिक तो छूट गए मगर विधायक अब भी नक्सलियों के कब्जे में हैं. इससे पहले ओडिशा में ही कलेक्टर आर. विनील कृष्णा को भी नक्सलियों ने बंधक बनाया था. ये दोनों इलाके छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे हुए हैं.

इधर जगदलपुर मसीह समाज ने माओवादियों से अपील की है कि योग्य एवं कुशल प्रशासक जो कि सुकमा जिले की सेवा हेतु प्रथम नियुक्ति हुई थी उनको अगवा किए जाने से मसीह समाज स्तब्ध रह गया है. मसीह समाज उनके परिवार के लिए भी इस कठिन समय में ईश्वर से प्रार्थना करता है कि उन्हें धीरज एवं धैर्यता प्रदान करे. इस संबंध में मसीह समाज बस्तर संभाग के उपाध्यक्ष रत्नेश बेंजामिन ने बताया कि कलेक्टर एलक्स पाल मेनन की कुशलतापूर्वक सही सलामत वापसी के लिए रविवार को आराधनालयों में विशेष प्रार्थना की जाएगी.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in