पहला पन्ना >कला >दिल्ली Print | Share This  

माधुरी दीक्षित का गुलाबी गैंग

माधुरी दीक्षित का गुलाबी गैंग

मुंबई. 28 अप्रैल 2012

माधुरी दीक्षित


माधुरी दीक्षित, शबाना आजमी, रवीना टंडन और माही गिल की फिल्म गुलाब गैंग को लेकर चर्चा का दौर शुरु हो गया है. माधुरी दीक्षित इस फिल्म में गैंग की प्रमुख गुलाब की भूमिका निभाने वाली हैं. फिल्म के निर्माता अनुभव सिन्हा हैं, जिन्होंने रा-वन फिल्म का निर्देशन किया था. फिल्म का निर्देशन का जिम्मा सौमिक सेन पर है.

सौमिक सेन इससे पहले ‘मीराबाई नॉट आउट’ और ‘हम तुम और घोस्ट’ जैसी फिल्में लिख चुके हैं. गुलाब गैंग के बारे में बताया गया है कि यह फिल्म महिलाओं के एक संगठन ‘गुलाब गैंग’ की कहानी है, जो समाज में होने वाले अन्याय के खिलाफ लड़ता है. अनुभव सिन्हा का दावा है कि उनकी फिल्म उत्तर प्रदेश के गुलाबी गैंग की कहानी नहीं है. लेकिन अनुभव सिन्हा जो कहानी गढ़ रहे हैं, उससे लगता नहीं कि उनकी फिल्म गुलाब गैंग बुंदेलखंड के गुलाबी गैंग की कहानी से कहीं अलग है.

गौरतलब है कि बांदा के इलाके में संपत पाल देवी के नेतृत्व में गुलाबी साड़ी पहनी महिलाओं ने अपनी सामाजिक सक्रियता बढ़ाते हुये कई परिवर्तनकारी काम किये हैं. गुलाबी साड़ी पहनने वाली इन महिलाओं ने महिलाओं के खिलाफ होने वाले अत्याचार के खिलाफ मार-कुटाई जैसे काम भी किये हैं. इन महिलाओं पर अतंराष्ट्रीय संगठनों ने फिल्में बनाई हैं तो गार्जियन अखबार ने इस गुलाबी गैंग की लीडर संपत लाल को दुनिया की 100 परिवर्तनकारी महत्वपूर्ण महिलाओं की लिस्ट में शामिल किया है. इटली और फ्रांस तक में इस संगठन की शाखाएं बनी हैं.