पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

रामदेव के साथ खड़े हुये अन्ना

रामदेव के साथ खड़े हुये अन्ना

नई दिल्ली. 3 मई 2012

बाबा रामदेव


देश के सांसद भले बाबा रामदेव द्वारा अपने को शैतान, हैवान और अपराधी कहे जाने से नाराज हों, समाजसेवी अन्ना हजारे बाबा रामदेव के साथ हैं. अन्ना हजारे ने कहा है कि योगगुरु ने कुछ भी गलत नहीं कहा है.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के दुर्ग से शुरु हुई अपनी यात्रा के दौरान बाबा रामदेव ने सांसदों पर जम कर हमला बोला था. बाबा रामदेव ने कहा था कि संसद में बैठे कुछ लोग रोगी, जाहिल और लुटेरे हैं. बाबा रामदेव ने सांसदों को हत्यारा तक करार देते हुए कहा कि संसद में बैठे लोग इंसान के रूप में शैतान-हैवान हैं. बाबा रामदेव ने सांसदों पर हमला बोलते हुये कहा था कि 543 रोगी हिंदुस्तान चला रहे हैं. हमने उन्हें कुर्सी पर बैठा दिया है. लेकिन उन्हें कुर्सी पर बैठने का अधिकार नहीं है. लेकिन देश चल रहा है. हमने ऐसा ही सिस्टम बनाया है. बेईमान, भ्रष्ट लोगों से संसद को भी बचाना है. बाबा रामदेव के ऐसे विशेषणों से नाराज सांसदों ने बाबा रामदेव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. दूसरी ओर लोकसभा की ओर से बाबा रामदेव के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस जारी किया गया है.

बाबा रामदेव के इस बयान और सांसदों द्वारा उसके विरोध के बीच अन्ना हजारे रामदेव के समर्थन में खड़े हो गये हैं. अन्ना हजारे ने कहा कि रामदेव ने जो कुछ भी कहा उसमें कुछ भी गलत नहीं है. आज कई लोगों के खिलाफ सबूत हैं। जब पार्टी टिकट देती है तो वे दागदार व्यक्ति को क्यों देती हैं?

अन्ना हजारे ने राजनीतिक दलों पर निशाना साधते हुये कहा कि पार्टियां केवल वोट के बारे में सोचती हैं. वे यह नहीं सोचती कि जिन्हें वे खड़ा कर रही हैं वे अपराधी हैं. लोकतंत्र के मंदिर का क्या होगा अगर वहां ऐसे लोग प्रवेश करेंगे.