पहला पन्ना >राजनीति >पाकिस्तान Print | Share This  

गोरी लड़कियां आसान शिकार

गोरी लड़कियां आसान शिकार

लंदन. 19 मई 2012

बैरोनेस वारसी


कंसर्वेटिव पार्टी की संयुक्त अध्यक्ष पाकिस्तानी मूल की बैरोनेस वारसी ने कहा है कि कुछ पाकिस्तानी पुरुष मान कर चलते हैं कि औरते दूसरे दर्जे की होती हैं और गोरी औरतें तीसरे दर्जे की. यही कारण है कि ऐसे पुरुष गोरी लड़कियों को अपना आसान शिकार मान कर चलते हैं.

गौरतलब है कि हाल ही में यौन अत्याचार के एक मामले में 9 लोगों को सजा हुई है, जिसमें 8 पाकिस्तानी हैं. ऐसे में लोगों में यह स्वाभाविक जिज्ञासा थी कि बैरोनेस वारसी इस बारे में क्या सोचती हैं. इन्हीं सब मुद्दों पर उन्होंने एक अखबार से खुल कर बात की.

बैरोनेस वारसी ने कहा कि पाकिस्तानी पुरुषों की ये छोटी संख्या जो गोरी लड़कियों को आसान शिकार समझती है, ये महिलाओं को दूसरे और गोरी महिलाओं को तीसरे दर्जे की नागरिक समझते हैं. ऐसे लोगों को यब बताने की ज़रुरत है कि महिलायें आज कहीं से भी पुरुषों से कमतर नहीं हैं और ऐसे पुरुष सैकड़ों साल पुरानी सोच से बाहर आयें.

यौन अपराधों पर काबू पाने को लेकर वारसी ने कहा कि हर मस्जिद में इसे मुद्दे के तौर पर उठाया जाना चाहिए ताकि अगर किसी का इससे दूर-दूर तक का भी कोई नाता हो तो उसे अहसास हो कि पूरा समुदाय उसके खिलाफ हो रहा है.