पहला पन्ना >राजनीति >उत्तराखंड Print | Share This  

नारायण दत्त तिवारी आज देंगे खून

नारायण दत्त तिवारी आज देंगे खून

देहरादून. 29 मई 2012

नारायण दत्त तिवारी


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता 88 साल के नारायण दत्त तिवारी मंगलवार को डीएनए के लिये अपने रक्त का नमूना देंगे. यह रक्त नमूना रोहित शेखर नामक युवक के दावे की जांच के लिये लिया जाएगा, जिसने नारायण दत्त तिवारी को अपना जैविक पिता होने का दावा किया है. देहरादून में प्रशासन ने रक्त नमूना लेने के लिये पूरी तैयारी कर रखी है और पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के घर के आस पास बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है.

गौरतलब है कि पितृत्व विवाद का यह मामला काफी सनसनीखेज रहा है. रोहित शेखर नामक युवक ने आरोप लगाया है कि एनडी तिवारी उसके पिता हैं. शेखर का कहना है कि एनडी तिवारी के उनकी मां उज्ज्वला शर्मा के साथ गहरे ताल्लुकात थे और उन्होंने उनकी मां से शादी करने का वादा किया था जिससे बाद में वे मुकर गए. इस मामले में रोहित शेखर इस मामले को अदालत में ले गये, जहां अदालत ने डीएनए टेस्ट के लिये तिवारी को आदेश दिया था. लेकिन नारायणदत्त तिवारी इससे बचते रहे.

इससे पहले सोमवार को उच्चतम न्यायालय ने उनकी उस याचिका को खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने उनका बेटा होने का दावा करने वाले रोहित शेखर द्वारा अदालती कार्रवाई को गोपनीय नहीं रखने का आरोप लगाते हुये, इस संबंध में दिशा निर्देश देने की मांग की थी. लेकिन न्यायमूर्ति जी एस सिंघवी और न्यायमूर्ति एस जे मुखोपाध्याय की पीठ ने कहा कि मीडिया से बातचीत करने पर कोई रोक नहीं है. गोपनीयता डीएनए जांच संबंधी रिपोर्ट के संबंध में रखी जानी है. अदालती कार्यवाही के संबंध में नहीं है.

इधर देहरादून में शनिवार को जिला जज रामकृष्ण ने दून अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. बीसी पाठक को पत्र भेजकर आवश्यक व्यवस्थाएं करने को कहा है. पत्र के अनुसार 29 मई को सुबह नौ बजे स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को पैथोलॉजिस्ट के साथ जिला जज आवास पर पहुंचना है. यहां से टीम सुबह साढ़े दस बजे वन अनुसंधान संस्थान स्थित पूर्व सीएम एनडी तिवारी के आवास पर पहुंचेगी. यहां जिला जज की उपस्थिति में तिवारी का रक्त का नमूना लिया जाएगा.