पहला पन्ना >कला >बात Print | Share This  

कविता बनी सिल्क स्मिता

कविता बनी सिल्क स्मिता

मुंबई. 20 जून 2012

कविता राधेश्याम


पांच घंटे में पांच करोड़ फिल्म की अभिनेत्री कविता राधेश्याम ने फिल्म रिलीज होने से ठीक पहले कथित रुप से सिल्क स्मिता को समर्पित अपना फोटोशूट कराकर हंगामा मचा दिया है. अपनी पहली बॉलीवुड फिल्म से पहले कविता के इस फोटोशूट को लेकर माना जा रहा है कि फिल्म में कोई दम नहीं है, इसलिये कविता किसी भी तरह लटके-झटके दिखा कर दर्शकों को सिनेमाघर तक ले जाने की असफल कोशिश कर रही है.

गौरतलब है कि कविता राधेश्याम इससे पहले पेटा के लिये जानवरों को बचाने के नाम पर न्यूड फोटो खिंचवा चुकी हैं. अब 1996 में आत्महत्या करने वाली सिल्क स्मिता की स्मृति में कविता ने तस्वीरें उतरवाई हैं. कविता के अनुसार सिल्क स्मिता एक ऐसी एक्ट्रेस थीं, जिन्होंने अपनी हिम्मत और प्रतिभा के बल पर पुरुष प्रधान फिल्म इंडस्ट्री में अपना सिक्का जमाया. मैं सिल्क की बहुत बड़ी प्रशंसक हूं. उन्होंने अपना पूरा जीवन खुद के बनाए उसूलों पर जिया, इसलिए ये फोटोशूट मैंने उन्ही को समर्पित किया है.

हालांकि पिछले कुछ समय से मुंबई के बाज़ार में यह चलन आम हो गया है कि फिल्म रिलीज होने से पहले अभिनेत्रियां अभिनय के बजाय अपनी देह को लेकर बात करने लगी हैं और सेमीन्यूड तस्वीरें खिंचवा कर फिल्म को सफल करने की असफल कोशिश करने में जुट जाती हैं. कुछ असफल मॉडलें और अभिनेत्रियां घोषणा कर कर के और शर्तें लगा-लगा कर कपड़े उतार कर फोटो खिंचवाने का ऐलान कर रही हैं. ऐसे में यह समय प्रतिभाशाली अभिनेत्रियों के लिये थोड़े संकट वाला हो सकता है. लेकिन यह भी तय है कि कविता राधेश्याम जैसी अभिनेत्रियों की सफलता भी संदिग्ध ही है.