पहला पन्ना > राजनीति > बिहार Print | Send to Friend | Share This 

साधु यादव कांग्रेस में शामिल

साधु यादव कांग्रेस में शामिल

नई दिल्ली. 18 मार्च 2009

 

बिहार में राजद और लोजपा के बीच चुनावी समझौते के खिलाफ लालू प्रसाद के साले सांसद साधु यादव ने कांग्रेस पार्टी का दामन थाम लिया है और लालू प्रसाद यादव के खिलाफ विद्रोह का बिगुल फूंक दिया है. इसी तरह पार्टी के वरिष्ठ नेता रमई राम भी ताल ठोंक कर लालू के खिलाफ सामने आ गये हैं.


साधु यादव ने दिल्ली में कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा करते हुए कहा कि “ राजद और लोजपा के बीच सीटों के बंटवारे का यह समझौता बीच में ही टूट जाएगा. मैं एक निवर्तमान सांसद हूं और चुनाव जीतता रहा हूं जबकि पिछली बार चुनाव हारने वाले प्रकाश झा के लिए लालू प्रसाद लोजपा और रामविलास के सामने झुक गए हैं.” उन्होंने साफ कहा कि जिसने राजद परिवार के खिलाफ 'अपहरण' फिल्म बनाई थी, उस आदमी को टिकट दी गई.


उन्होंने कहा कि अब कांग्रेस आलाकमान तय करेगा कि वे कहां से चुनाव लड़ेंगे. हालांकि उन्होंने कहा कि वे बेतिया और मोतीहारी दोनों सीटों से चुनाव लड़ना चाहते हैं. साधु ने कहा कि व्यक्तिगत रिश्ते अपनी जगह हैं और राजनीतिक रिश्ते अपनी जगह.


उधर राजद नेता औऱ विधायक रमई राम ने लालू यादव के खिलाफ बयानबाजी करते हुए कहा है कि राजद ने श्याम रजक को छोड़कर किसी दलित को प्रत्याशी नहीं बनाया है और लालू दलितों के नाम पर अपना उल्लू सीधा कर रहे हैं.


लोजपा नेता रामविलास पासवान पर निशाना साधते हुए रमई राम ने कहा कि उनका दलित प्रेम अपने भाई, दामाद व परिवार तक सीमित है. पासवान दलितों के नहीं बल्कि एक जाति विशेष के नेता हैं. रामविलास पासवान व लालू प्रसाद मात्र कुर्सी की लड़ाई लड़ रहे हैं.