पहला पन्ना > राजनीति Print | Send to Friend | Share This 

रासुका के खिलाफ वरुण गांघी सुप्रीम कोर्ट की शरण में

रासुका के खिलाफ वरुण सुप्रीम कोर्ट की शरण में

नई दिल्ली. 01 अप्रैल 2009

 

वरुण गांधी ने अपने खिलाफ लगे राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी है. इससे पहले वरुण को उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा अपनी चुनावी रैली में एक संप्रदाय विशेष के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.

इसके बाद उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उन पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगाया था. गिरफ्तारी के बाद वरुण को पीलीभीत जेल में रखा गया थां जहां से उन्हें मंगलवार रात को सुरक्षा कारणों से एटा जेल में स्थानांतरित किया गया. एटा जेल में आज उनसे मिलने उनकी माता मेनका गांधी पहुँची.

इस मुद्दे पर वरुण के वकील पूर्व अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल मुकुल रोहतगी ने प्रधान न्यायाधीश के.जी.बालाकृष्णन की अध्यक्षता वाली पीठ से कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने वरुण को अवैध ढंग से कैद में रखा है.
रोहतगी ने पीठ को यह भी बताया कि वह वरुण को न्यायालय के समक्ष पेश करने के लिए बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दाखिल करने के लिए प्रयास कर रहे हैं.