पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

बाबा रामदेव गिरफ्तार

बाबा रामदेव गिरफ्तार

नई दिल्ली. 13 अगस्त 2012

बाबा रामदेव


बाबा रामदेव को संसद की ओर मार्च करते समय सोमवार को गिरफ़्तार कर लिया गया. बाबा रामदेव 9 अगस्त से दिल्ली के रामलीला मैदान में अपने 20 हजार समर्थकों के साथ अनशन पर बैठे थे. रामदेव के साथ बड़ी तादाद में उनके समर्थक भी मौजूद थे. उन्हें संसद की ओर जाते समय दिल्ली के रंजीत सिंह फ़्लाईओवर के पास गिरफ़्तार किया गया. इस पूरे विरोध प्रदर्शन के दौरान रामदेव ने अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की मगर उन्हें जिस बस में पुलिस ने बैठाया था, उनके समर्थक उसे आगे नहीं बढ़ने दे रहे थे.

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी रामलीला मैदान पहुँचे थे जहाँ उन्होंने रामदेव के आंदोलन को समर्थन दिया. उनके साथ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के समन्वयक और जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष शरद यादव भी थे. अकाली दल के नेता पहले से ही मंच पर उपस्थित थे.

इससे पहले समर्थकों को संबोधित करते हुये बाबा रामदेव ने कहा कि 13 तारीख से सरकार की तेरहवीं शुरु हो गई है. 9 अगस्त से अनशन पर बैठे बाबा रामदेव ने कहा कि पांच दिन हो गए बैठे-बैठे. अब बैठने का वक्त नहीं रह गया है. अब आप खड़े हो जाएं और जब तक मार्च शुरू नहीं हो जाए तब तक खड़े रहें. उन्होंने कहा कि अब हम संसद के बाहर धरना देंगे. शायद वहां से इस बहरी सरकार को हमारी आवाज सुनाई दे. बाबा रामदेव ने कहा कि वे लोकसभा से पहले यह भी बताएंगे कि किसे जीताना है.

बाबा रामदेव ने कहा कि एक पार्टी ने अपने आप ही यह साबित कर दिया है कि वह भ्रष्टाचार को बढ़ाना चाहती है, कालेधन पर रोक नहीं लगाना चाहती. अगले चुनाव में इस पार्टी का विरोध भी करना है. बाद में बाबा रामदेव ने नारा लगवाया, कांग्रेस हटाओ, भ्रष्टाचार मिटाओ. बाबा रामदेव ने कहा कि संसद में कुछ सांसद ईमानदार हैं, राष्ट्रभक्त हैं. उन्होंने कहा कि अब यह सरकार ज्यादा दिन चलने वाली नहीं है और अब हम इस सरकार की तेरहवीं की तैयारी करेंगे. रामदेव ने कहा कि अगला लोकसभा चुनाव जब भी होगा तब यह आंदोलन यह बात सुनिश्चित करने की कोशिश करेगा कि अगली बार एक भी बेईमान सांसद न चुना जा सके.