पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

बालकृष्ण फिर होंगे गिरफ्तार

बालकृष्ण फिर होंगे गिरफ्तार

नई दिल्ली. 23 अगस्त 2012

आचार्य बालकृष्ण


बाबा रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण एक बार फिर अंदर हो सकते हैं. उनके खिलाफ अब सूदखोरी करने के आरोप लगे हैं. बालकृष्ण के खिलाफ फर्जी पासपोर्ट मामले में दर्ज सीबीआई की एफआईआर के आधार पर प्रवर्तन निदेशालय ने बालकृष्ण के खिलाफ मनी लॉन्डरिंग का मुकदमा दर्ज किया है. इस मामले में बालकृष्ण कभी भी गिरफ्तार किये जा सकते हैं.

गौरतलब है कि बालकृष्ण पर आरोप है कि उन्होंने अपने पासपोर्ट के लिये गलत जानकारी दी. उनके खिलाफ दो पासपोर्ट रखने और नेपाल में पैदा होने के बाद भी भारत में पैदा गोने संबंधी कथित तौर पर गलत जानकारी देने का आरोप है. आचार्य बालकृष्ण को हरिद्वार में पतंजलि योगपीठ से 20 जुलाई को गिरफ्तार किया था. सीबीआई ने बालकृष्ण के खिलाफ भारतीय पासपोर्ट अधिनियम की धारा 12 का उल्लंघन करने, धारा 420, धोखाधडी, 120-बी, आपराधिक षडयंत्र, आईपीसी की धारा 468 और 471 के तहत केस दर्ज किया था. इसके बाद 16 अगस्त को बालकृष्ण को इस मामले में जमानत मिली है.

अब बालकृष्ण एक बार फिर गिरफ्तार हो सकते हैं. प्रवर्तन निदेशालय का कहना है कि बाबा रामदेव के कई ट्रस्टों की देखभाल करने वाले उनके निकटतम सहयोगी बालकृष्ण ने फर्जी पासपोर्ट का इस्तेमाल कर विदेशों में मनी लॉन्डरिंग की होगी. इसके लिये प्रवर्तन निदेशालय ने धन शोधन निवारण कानून के तहत मामला दर्ज करके बालकृष्ण के विदेश दौरे और उनके द्वारा किये गये हरेक लेन-देन की गंभीरता से जांच करना शुरु कर दिया है. जाहिर है, अगर बालकृष्ण एक भी मामले में संदेह के घेरे में आए तो पहले से ही नाराज और बदला लेने पर उतारु केंद्र सरकार कोई भी अवसर अपने हाथ से जाने नहीं देगी.