पहला पन्ना > >पाकिस्तान Print | Share This  

भारत-पाक वीज़ा समझौते पर करेंगे हस्ताक्षर

भारत-पाक वीज़ा समझौते पर करेंगे हस्ताक्षर

इस्लामाबाद. 8 सितंबर 2012

S M Krishna and Hina Rabbani Khar


भारत और पाकिस्तान के बीच बहुप्रतीक्षित सरल वीज़ा समझौते पर शनिवार को भारतीय विदेश मंत्री एस.एम.कृष्णा और पाकिस्तानी विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार की बैठक में हस्ताक्षर होंगे. इससे पहले दोनों देशों के विदेश सचिवों ने शुक्रवार को हुई बैठक में वीज़ा समझौते के प्रारूप के अंतिम रूप दिया था.

नए वीज़ा प्रारूप में आठ वर्ग हैं जिनमें राजनयिक, गैर-राजनयिक, 36 घंटे का ट्रांजिट विजिट, टूरिस्ट वीजा, सिविल सोसायटी, मीडिया और बिजनेस वीजा शामिल हैं. टूरिस्ट वीजा केवल पांच जगहों के लिए मान्य होगा और इसकी अवधि छह महीने के लिए होगी. इन विशेषीकृत श्रेणियों में वीजा नियम पारित कर दिए जाने से दोनों मुल्कों के बीच नागरिकों की आवाजाही को आसान बनाने में मदद मिलेगी

शुक्रवार को विदेश सचिवों की बैठक में भारतीय विदेश सचिव रंजन मथाई ने भारत में आतंकवाद और मुंबई हमलों की धीमी पड़ताल का मुद्दा भी उठाया. भारत ने अपना रुख साफ करते हुए कहा कि आतंकवाद उसके लिए एक प्रमुख मुद्दा है जिस पर किसी भी प्रकार का समझौता संभव नहीं है.

इस बीच आतंकवाद पर अपना रुख ज़ाहिर करते हुए विदेश सचिवों की बैठक के बाद पाकिस्तानी विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार ने कहा कि आतंकवाद अतीत की बात हो चुकी है और यह भविष्य का मंत्र नहीं है. उन्होंने भारत को यह भी नसीहत दी कि वह 26/11 मुंबई हमलों के मुद्दे को वास्तविकता के नज़र से देखे न कि भावुकता की नज़र से.