पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

इसरो का सौवां अंतरिक्ष यान प्रक्षेपित

इसरो का सौवां अंतरिक्ष यान प्रक्षेपित

श्रीहरिकोटा. 9 सितंबर 2012

इसरो पीएसएलवी


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से रविवार को अपना 100वां अंतरिक्ष मिशन लॉन्च किया. इस मिशन के तहत ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी-सी 21) फ्रांस एवं जापान के उपग्रहों को लेकर अंतरिक्ष के लिए रवाना हो गया. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी इसरो की इस उपलब्धि के साक्षी रहे. इसरो की इस कामयाबी पर प्रधानमंत्री ने सभी वैज्ञानिकों को बधाई दी और इसे देश की एक बड़ी उपलब्धि बताया.

पीएसएलवी सी-21 के साथ प्रक्षेपित किया गया फ्रांसीसी उपग्रह स्पॉट-6 715 किलोग्राम वजनी उपग्रह है, जो कि इसरो द्वारा छोड़ा गया अब तक का सबसे भारी उपग्रह है. इसके साथ ही जापान में निर्मित 15 किलोग्राम वजन वाला प्रॉयटेरेस उपग्रह भी छोड़ा गया है. इन उपग्रहों को 655 किलोमीटर पर ध्रुवीय कक्षा में स्थापित किया जाना है.

1969 में स्थापित भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान एजेंसी इसरो ने अपना पहला उपग्रह 'आर्यभट्ट' 1975 में भेजा था और तब से अब तक इसने 62 उपग्रह और 37 रॉकेट अंतरिक्ष में भेजे थे. रविवार को अंतरिक्ष में प्रक्षेपित यान पीएसएलवी इसका अंतरिक्ष में भेजा गया 100वां रॉकेट था.