पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

रामदेव बाबा ने साधा दिग्विजय पर निशाना

रामदेव बाबा ने साधा दिग्विजय पर निशाना

नई दिल्ली. 10 सितंबर 2012

बाबा रामदेव


बाबा रामदेव ने कहा है कि दिग्विजय सिंह मेरे खिलाफ लगातार आरोप लगाते रहते हैं और सोनिया गांधी इस मामले में चुप हैं. दिग्गी का नाम लिये बिना उन्होंने कहा कि वह पीछे से घिनौने आरोप लगाना बंद करें और मीडिया के सामने हमसे सीधे सवाल जवाब करें.

पत्रकारों से बातचीत करते हुये बाबा रामदेव ने कहा कि कांग्रेस के इन महासचिव ने सारी मर्यादाओं का उल्लंघन कर हमारे खिलाफ घिनौने षड्यंत्र रचे और मेरे गुरु को लापता कराने का आरोप तक मुझ पर लगाया. यह वही महासचिव हैं, जिनके कहने पर मध्य प्रदेश में मेरी गाड़ी पर पत्थर फेंके गये और जो अकसर उन्हें आरोपों में घेरते हैं.

बाबा रामदेव ने कहा कि जब 2007 में मुझे अपने गुरु की गुमशुदगी का पता चला था तो मैं लंदन में था और मैंने उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री बी सी खंडूड़ी से बात की थी. लेकिन मुझ पर ही अपने गुरु को गायब करवाने का आरोप लगाया गया. इस तरह का गैर जिम्मेदाराना आरोप एक दो बार नहीं हजार बार लगाया गया है.

कांग्रेस महासचिव पर तीखा हमला करते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि मैं अपने गुरु के बारे में ऐसा कैसे सोच सकता हूं. लगता है कि उनकी सोच खराब है. उन्होंने अपने बड़े-बुजुर्गों के साथ ऐसा किया होगा.

बाबा रामदेव ने 2010 में स्वदेशी बचाओ आंदोलन के राजीव दीक्षित के छत्तीसगढ़ में निधन की घटना का भी उल्लेख करते हुए कहा कि राजीव की मौत के लिए भी उन्हें जिम्मेदार ठहराया गया जबकि मौजूद रिकार्ड से स्पष्ट है कि उनकी मौत बीमारी से हुई. राजीव का इलाज जिन अस्पतालों में हुआ उनमें और उपचार करने वाले सभी डॉक्टरों के पास फाइलें मौजूद हैं. उनके पास भी रिकार्ड हैं, जो बताते हैं कि राजीव की मौत दिल की बीमारी से हुई.

राजीव दीक्षित के मुद्दे पर बाबा रामदेव ने कहा कि हमने अपने सार्वजनिक और निजी जीवन में कभी दोहरे मापदंड नहीं अपनाये. निजी जीवन का अस्तित्व ही समाप्त कर दिया. लेकिन हमारे ऊपर ऐसे आरोप लगाये गये हैं जिनके बारे में हम सोच भी नहीं सकते. दिवंगत राजीव भाई की मौत में हमारा क्या स्वार्थ हो सकता है.