पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

असीम त्रिवेदी मामले में बैकफुट पर कांग्रेस

असीम त्रिवेदी मामले में बैकफुट पर कांग्रेस

नई दिल्ली. 10 सितंबर 2012

असीम त्रिवेदी


कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस पार्टी सफाई की मुद्रा में आ गई है. महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किये गये कार्टूनिस्ट की रिहाई के प्रयास किये जा रहे हैं. महाराष्ट्र के गृह मंत्री आरआर पाटिल ने भी कहा है कि पुलिस की जांच पूरी हो चुकी थी. पुलिस हिरासत की मांग करने की कोई जरूरत नहीं थी. मैं मामले की जांच कर रहा हूँ. हम यह बात अदालत में कहेंगे.

इधर कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा है कि मुझे यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि गिरफ्तारी को अनावश्यक रूप से अधिक खींचा गया है और इस तरह की कार्रवाई की निश्चित तौर पर जरूरत नहीं थी. हम गिरफ्तारी के हक में नहीं हैं.

महाराष्ट्र पुलिस ने भी माना है कि असीम त्रिवेदी को पुलिस हिरासत में रखने की जरुरत नहीं थी और उनसे गलती हुई है. हालांकि सूचना और प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी पहले ही कह चुकी हैं कि संप्रग सरकार मीडिया की सेंशरशिप के पक्ष में नहीं लेकिन स्व नियमन की वकालत करती है.

लेकिन असीम त्रिवेदी की गिरफ्तारी की चौतरफा आलोचना लगातार जारी है. सामाजिक कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल ने कहा कि देशद्रोह के आरोप तब लगते हैं जब कोई देश के खिलाफ युद्ध छेड़ता है. असीम त्रिवेदी के कार्टूनों बनाने पर इस तरह के आरोप नहीं लगाए जा सकते.

प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मार्कण्डेय काटजू ने कहा कि कार्टूनिस्ट ने कुछ भी गलत या अवैध नहीं किया है. लोकतंत्र में बहुत-सी बातें कही जाती हैं. कुछ सही होती हैं, बाकी ग़लत. जिसने कोई अपराध नहीं किया हो, उसे गिरफ़्तार करना भी एक अपराध है. उन्होंने कि इस अपराध के लिए उन पुलिस अधिकारियों और नेताओं को गिरफ्तार कर उन पर केस चलाया जाना चाहिए जो इस गिरफ्तारी के लिए जिम्मेदार हैं.

गौरतलब है कि कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी को राजद्रोह के आरोप में मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था. रविवार को उन्हें अदालत में पेश किया गया था, जहां से उन्हें 14 दिनों के लिए हिरासत में भेजने का आदेश दिया गया.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in