पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

प्रियंका विवाद में भाजपा पर भड़की टीम केजरीवाल

प्रियंका विवाद में भाजपा पर भड़की टीम केजरीवाल

नई दिल्ली. 8 अक्टूबर 2012

प्रियंका गांधी


टीम केजरीवाल और इंडिया अगेंस्ट करप्शन ने भाजपा नेता शांता कुमार द्वारा प्रियंका गांधी को लेकर उठाये गये सवालों का जवाब देते हुये कहा है कि प्रियंका को पहाड़ की वादियों में संपत्ति खरीदने की इजाजत किस सरकार ने दी? गौरतलब है कि भाजपा के उपाध्यक्ष शांता कुमार ने प्रियंका गांधी की शिमला में संपत्ति होने के बारे में खुलासा करने की मांग की थी. शांता कुमार ने अपने पत्र में लिखा था कि प्रियंका वाड्रा के परिवार की एक संपत्ति शिमला में भी है. इसकी मुझे पूरी जानकारी नहीं परंतु यह करोड़ो रुपए की है. उस संपत्ति को आप उस सूची में शामिल करें. आपके इस महत्वपूर्ण अभियान में पूरा देश आपके साथ है.

इंडिया अगेंस्ट करप्शन ने भाजपा नेता शांता कुमार को जवाब में लिखा है कि देश की संपत्ति की लूट में भाजपा भी उतनी ही शामिल है, जितनी दूसरी पार्टियां. भाजपा की सरकार वाले राज्यों में भी भ्रष्टाचार की बात सामने आ रही है. इंडिया अगेंस्ट करप्शन के अनुसार शांता कुमार ने अरविंद केजरीवाल को लिखे अपने पत्र में कहा कि वह शिमला में प्रियंका गांधी की संपत्ति के बारे में भी लोगों को बताएं. रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ किए गए खुलासों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि शिमला में प्रियंका गांधी के नाम करोड़ों की संपत्ति है. शांता ने कहा कि केजरीवाल को इसके बारे में भी लोगों को बताना चाहिए.

इंडिया अगेंस्ट करप्शन ने कहा है कि हिमाचल में इस समय भाजपा की ही सरकार है. इसलिए शांता कुमार जी के लिए इस बारे में पता करना ज्यादा आसान है. आईएसी ने शांता कुमार और मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल से यह अपील की कि वह जनता को इस बारे में सही-सही बताएं.

अपने पत्र में इंडिया अगेंस्ट करप्शन ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में किसी बाहर व्यक्ति को बिना सरकार की इजाजत के जमीन खरीदने का अधिकार नहीं है. हम यह जानना चाहते हैं कि प्रियंका वाड्रा को जमीन खरीदने की इजाजत कब और किस सरकार ने दी?


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in