पहला पन्ना > >पाकिस्तान Print | Share This  

कश्मीर मुद्दे पर भारत-पाक के बीच वाकयुद्ध

कश्मीर मुद्दे पर भारत-पाक के बीच वाकयुद्ध

नई दिल्ली. 10 अक्टूबर 2012

india pakistan


संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर मुद्दे पर बहस होने के एक हफ्ते बाद ही फिर भारत और पाकिस्तान के बीच वाकयुद्ध शुरु हो गया है. संयुक्त राष्ट्र में स्पेशल पॉलिटिकल एवं डिकॉलोनाइजेशन कमेटी की आम बहस में पाकिस्तान के स्थाई उपप्रतिनिधी रजा बशीर तरार ने कश्मीर मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि `जम्मू-कश्मीर विवाद के समाधान के बगैर संयुक्त राष्ट्र का गैर उपनिवेशवाद का एजेंडा अधूरा रहेगा’. उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान इस मामले का ऐसा शांतिपूर्ण हल ढूंढने के लिए प्रतिबद्ध है, जो कि सभी लोगों को (खासकर जम्मू कश्मीर के लोगों को) स्वीकार्य हो.

पाकिस्तान के इस बयान को अप्रासंगिक ठहराते हुए भारत ने कहा है कि पाकिस्तान ने बहुत दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से जम्मू-कश्मीर के मुद्दे को फिर से उछाला है, जो कि भारत का अभिन्न अंग है. भारतीय दूतावास के प्रथम सचिव प्रकाश गुप्ता ने कहा है कि पाकिस्तानी प्रतिनिधि मंडल की तरफ से आई इस अवांछनीय टिप्पणी को हम पूरी तरह से खारिज करते हैं जिसमें जम्मू-कश्मीर का जिक्र है. यह टिप्पणी इस समिति के संदर्भ से इतर है.

श्री गुप्ता ने यह भी कहा कि भारत का संविधान अपने सभी नागरिकों के मौलिक अधिकारों का संरक्षण करता है और जम्मू-कश्मीर के लोगों ने शांतिपूर्ण तरीके से अपने भविष्य को लेकर फैसला किया है और वे इस पर कायम रहेंगे. उधर भारतीय रुख पर तीखी टिप्पणी करते हुए तरार ने कहा है कि भारतीय प्रतिनिधि अपने अधिकार-क्षेत्र से बाहर की टिप्पणी कर रहे हैं और जम्मू-कश्मीर न तो भारत का अभिन्न अंग है न कभी रहा है.