पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

सैफ-करीना की शादी नाजायज

सैफ-करीना की शादी नाजायज

देवबंद. 18 अक्टूबर 2012

सैफ-करीना


दारुल उलूम ने कहा है कि सैफ अली खान और करीना कपूर की शादी नाजायज है. देवबंद की इस संस्था का कहना है कि लड़का-लड़की अगर मुसलमान नहीं हैं तो उनकी शादी इस्लाम में जायज नहीं मानी जा सकती.

इस्लामिक संस्था दारुल उलूम ने कहा है कि शरीयत में शादी करने के लिए पुरुष और महिला का मुसलमान होना जरूरी है. यदि करीना कपूर अपने धर्म पर कायम हैं, तो यह शादी इस्लाम में जायज नहीं है. इस संस्था के मुफ्ती राशिद कासमी का कहना है कि शरीयत में हुक्म दिया गया है कि शादी करने के लिए लड़का-लड़की का मुसलमान होना जरूरी है.

फतवा विभाग के वरिष्ठ मुफ्ती हबीबुर्रहमान ने भी साफ कहा कि करीना ने शादी से पहले इस्लाम कुबूल नहीं किया है. उन्होंने अपने निजी मकसद अथवा फायदे के लिए यह शादी की है. इस्लाम में इस तरह की शादी को मान्यता नहीं दी गई है. यदि दोनों मुस्लिम हों, शादी तभी जायज है.